बिलासपुर में भी बनेगी ऑक्सीजन सड़क,मिट्टी तेल गली स्मार्ट रोड को हरियाली युक्त बनाने के कमिश्नर ने दिए निर्देश

बिलासपुर- छत्तीसगढ़ का पहला आॅक्सीजन से युक्त सड़क बनने जा रहा है बिलासपुर में. स्मार्ट सिटी योजना के तहत बन रहे मिट्टी तेल गली स्मार्ट रोड के निरीक्षण के दौरान नगर पालिक निगम कमिश्नर एवं एमडी प्रभाकर पाण्डेय ने अधिकारियों को सड़क को हरियाली से युक्त आॅक्सीजोन सड़क के रूप में विकसित करने के निर्देश दिए।

आज सुबह स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत चल रहें कार्यों का निरीक्षण करने पहुंचे कमिश्नर एवं एमडी श्री प्रभाकर पाण्डेय ने निर्माणाधीन व्यापार विहार स्मार्ट रोड का निरीक्षण किए। इस दौरान कार्य की धीमी गति पर उन्होंने अधिकारियों एवं निर्माण कंपनी पर नाराज़गी जताई,साथ ही समय सीमा के भीतर गुणवत्तापूर्ण सड़क बनाने के निर्देश अधिकारियों एवं निर्माण कंपनी को दिए।

निरीक्षण के दौरान कमिश्नर पाण्डेय ने अधिकारियों से पाइपलाइन शिफ्टिंग, यूटिलिटी डक्ट, नाली को कल्वर्ट से जोड़ने,भारतीय नगर चौक में पुलिया निर्माण समेत पूरा कम ज़ल्द से ज़ल्द करने के निर्देश अधिकारियों एवं निर्माण कंपनी को दिए। व्यापार विहार के बाद मिट्टी तेल गली स्मार्ट रोड का भी निरीक्षण करने पहुंचे कमिश्नर एवं एमडी श्री प्रभाकर पाण्डेय ने बचे हुए कार्यों को जल्द पूरा करने और पूरे मार्ग को आॅक्सीजोन के रूप में विकसित करने के निर्देश दिए।

इसके लिए मार्ग के दोनों ओर व्यापक पैमाने पर पेड़-पौधे लगाने के निर्देश दिए। निरीक्षण के दौरान प्रमुख रूप से अधीक्षण अभियंता सुधीर गुप्ता,प्रबंधक स्मार्ट सिटी पी.के.पंचायती,उप प्रबंधक सुरेश बरूआ, अजय श्रीवासन,अनुपम तिवारी और श्रीकांत नायर और स्मार्ट सिटी की टीम मौजूद रही।

ऐसे पेड़ लगेंगे जिनसे मिलेगा आॅक्सीजन

कमिश्नर एवं एमडी श्री प्रभाकर पाण्डेय ने दिए अपने निर्देश में अधिकारियों को स्पष्ट रूप से कहा की ऐसे पेड़-पौधें लगाएं जिनसे आक्सीजन मिलता है. इससे आमजन के साथ-साथ शहर के वातावरण को भी काफी लाभ मिलेगा,सर्व सुविधाओं से युक्त सड़क पर लोगों को स्वच्छ हवा भी मिलेगी। कमिश्नर श्री पाण्डेय ने वृक्षारोपण करने के पश्चात उसके देखभाल करने के लिए भी विशेष रूप से पूरी टीम को निर्देशित किया।

आमजन को ना हों तकलीफ-कमिश्नर

व्यापार विहार स्मार्ट रोड के निरीक्षण के दौरान कमिश्नर एवं एमडी प्रभाकर पाण्डेय ने अधिकारियों और निर्माण कंपनी को फटकार लगाते हुए साफ शब्दों में कहा की निर्माण के दौरान जनता को तकलीफ़ और असुविधा नहीं होनी चाहिए। निर्माण कंपनी को निर्माण के दौरान सतत् रूप से पानी के छिड़काव करने के निर्देश दिए ताकि धूल से किसी भी प्रकार की कोई असुविधा ना हो। इसके अलावा निर्माण के दौरान सुरक्षा के भी पर्याप्त व्यवस्था करने के निर्देश कमिश्नर प्रभाकर पाण्डेय ने दिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *