युवा शक्ति से मिलेगी कोल इंडिया को गति..मोहन दास

qcबिलासपुर—-युवा शक्ति से देश को बहुत उम्मीदें हैं। कोयला उद्योग में युवाओं के नेतृत्व से विकास की रफ्तार को गति मिलेगी युवाओं के साथ अनुभव को समन्वय और कुशलता को बल मिलेगा। माइनिंग के क्षेत्र में व्यापक तकनीकी बदलाव आ रहे हैं। आधुनिकीकरण की दिशा में युवा शक्ति के सहयोग से कोयला उद्योग के विकास को और गति मिलेगी। यह बातें निदेशक कोल इण्डिया आर मोहन दास ने कही ।

                      दो दिवसीय जेन.नेक्स्ट माइनिंग कोंन्क्लेव के समापन समारोह में मोहनदास ने कहा कि युवाओं की शक्ति और अनुभव के मेल से कोयला उद्योग को रफ्तार मिलेगी। कार्यक्रम में कोल इण्डिया लिमिटेड के सहयोगी अनुषंगी कंपनियों से युवा माइनिंग अधिकारियों की टीम भी शामिल हुई। कॉन्क्लेव के दूसरे दिन निदेशक कार्मिक एवं औधोगिक संबंध कोल इण्डिया लिमिटेड आर मोहन दास और निदेशक कार्मिक एसईसीएल डॉ आर एस झा ब्रेन.स्टोर्मिंग सत्र में शिरकत किया। सेशन के दोनों सत्रों में विभिन्न टीमों ने कोयला उद्योग की चुनौतियों और संभावनाओं पर पावर प्वाइंट पेश किया।

             मालूम हो कि एक दिन पहले कोल सचिव अनिल स्वरूप ने कॉन्क्लेव में शिरकत कर लोगों के विचारों को गंभीरता से लिया है। निदेशक कार्मिक डॉ आर एस झा ने बताया कि युवा टीम सभी चुनौतियों से निपटने के लिए तैयार है। विश्वास है कि युवा हाथों में कोल इण्डिया का भविष्य उज्जवल रहेगा। कार्यक्रम के दूसरे सत्र में सभी प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र ग्रुप फोटो और स्मृति.चिन्ह भेंट किया गया।

एसईसीएल का सम्मान

बैंकॉक में इंटेरनेशनल कन्वेन्शन फॉर क्वालिटी सर्किल प्रतियोगिता में एसईसीएल की तीन टीमों को गोल्ड श्रेणी का अवार्ड मिला है। तीनों टीमों ने प्रतियोगिता में केस स्टडी के जरिये भागेदारी की थी ।

                 मालूम हो कि तीनों टीम पिछले साल चेन्नई में आयोजित राष्ट्रीय स्तर की क्वालिटी सर्किल प्रतियोगिता में भी एसईसीएल का नाम रोशन किया था। प्रतियोगिता में सीडब्ल्यूएस कोरबा की ऊर्जा टीम ने मोडीफिकेशन इन द डिजाइन ऑफ सिंक्रोनस मोटर, सीईडब्लूएस गेवरा की बोस टीम ने ईकेजी रोप शोवेल और चिरमिरी की उड़ान टीम ने मल्टी इलेक्ट्रिकल टेस्टिंग इन्स्ट्रमेंटस विषय पर प्रस्तुति देकर लोगों को प्रभावित किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *