श्रम को पहले नंबर का विभाग बनाने मंडल ने दिए टिप्स

IMG_20160708_210616_129रायपुर।श्रम विभाग के प्रमुख सचिव आर. पी. मण्डल ने प्रदेश के श्रमिकों के कल्याण और उनके विकास के लिए संचालित विभिन्न योजनाओं के क्रियान्वयन और उपलब्धियों में श्रम विभाग को पहले नम्बर का विभाग बनाने विभागीय अधिकारियों को विशेष निर्देश दिए हैं। उन्होंने जिला अधिकारियों को आपसी समन्वय और टीम भावना के साथ काम करने और विभागीय काम-काज में और अधिक गति लाने के निर्देश दिए हैं। मण्डल ने शुक्रवार को मंत्रालय में विभागीय अधिकारियों की राज्य स्तरीय बैठक लेकर काम-काज की समीक्षा की। मण्डल ने प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के तहत श्रम विभाग द्वारा अगले तीन माह में तीन लाख पंजीकृत श्रमिक परिवारों को रसोई गैस कनेक्शन उपलब्ध कराने के संबंध में की जा रही तैयारियों की समीक्षा की।

                    मण्डल ने कहा कि यह योजना प्रधानमंत्री की प्राथमिकता वाली योजना है। इसकी शुरूआत राजनांदगांव जिले से करना है। इसके साथ ही प्रदेश के अन्य सभी जिलों में रसोई गैस कनेक्शन वितरण होना है, इसके लिए कार्ययोजना बनाकर एक मिशन के रूप में कार्य शुरू करें। उन्होंने कहा कि अगली बैठक में इस योजना की जिलेवार समीक्षा की जाएगी।

                     बैठक में श्रम आयुक्त अविनाश चंपावत ने बताया कि प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के तहत पंजीकृत श्रमिक परिवारों के महिलाओं के नाम पर रसोई गैस कनेक्शन देने के लिए हितग्राहियों का चयन किया जा रहा है। इसके लिए आर्थिक, सामाजिक एवं जाति जनगणना 2011 की सूची में शामिल नाम और पंजीकृत श्रमिक के नाम का मिलान कर सूची तैयार करने के बाद ग्रामवार शिविर लागाकर फार्म भरवाने के बाद रसोई गैस कंपनी को उपलब्ध कराया जाएगा।

                 चंपावत ने बताया कि इस योजना के लिए श्रम कल्याण मण्डल द्वारा खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग को इस वर्ष 25 करोड़ रूपए उपलब्ध कराया जा रहा है। बैठक में श्रम-मित्र योजना के तहत श्रम मित्रों की नियुक्ति, महिला श्रमिको के लिए प्रसुती सहायता योजना, श्रमिकों के बच्चों के लिए छात्रवृत्ती योजना सहित विभिन्न योजनाओं की जिलेवार समीक्षा की गयी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *