झीरम घाटी काण्डः सुरक्षा में हुई भारी लापरवाही

              JHIRAM GHATI.1                                बिलासपुर हाईकोर्ट की विशेष अदालत मे आज तोंगपाल के तत्कालीन थाना प्रभारी की बयान दर्ज किया गया । बयान के दौरान तत्कालीन थाना प्रभारी लीलाधर कश्यप से जीरम घाटी घटना से जुडे कई सवाल पूछे गये । बयान मे यह बात सामने आयी कि थाना प्रभारी को घटना की कोई जानकारी नही थी। जबकि महेन्द्र कर्मा के ड्रायवर और कोंटा विधायक कवासी लखमा के गन मेन ने घटना के कुछ देर बाद ही तोंगपाल थाने मे नक्सली हमले की जानकारी दी थी । वहीं थाना प्रभारी ने ऐसी किसी सूचना से इंकार किया तो शाम को सुकमा से सीआरपीएफ के जवानो के आने के बाद मौके पर जाने की बात कही ।

                                   हाईकोर्ट के स्पेशल बेंच मे हुई गवाही के बाद पीडित पक्ष के वकील सुदीप श्रीवास्तव ने बताया कि जीरम मामले मे पुलिस की जांच मे कई खामियां सामने आ रही हैं। क्योकी नक्सली वारदात को अंजाम देने के बाद नक्सलियो का जत्था तोंगपाल के रास्ते ही वापस लौटा था। दूसरी पाली मे एडिश्नल एस पी सुभाष सिंह का भी बयान दर्ज किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.