बैगा परिवारों को गाँव से बाहर निकालने डिप्टी रेंजर ने धमकाया, सरपंच ने की CM और कलेक्टर से शिकायत

बिलासपुर।सहायक वन परिक्षेत्र में बेलगहना के अंतर्गत आने वाले परिक्षेत्र सहायक खोंगसरा के आदिवासी गांवों में वनपाल द्वारा बैगा परिवारों के साथ अभद्र व्यवहार और गांव से निकालने की धमकी लगातार दी जा रही है ।जिससे सभी ग्रामीण डरे हुए थे। आमागोहन के सरपंच हेमसिंह कंवर ने इसे लेकर जिला कलेक्टर के नाम एक ज्ञापन भेजा है। जिसमें डिप्टी रेंज़र को तत्काल हटाने की माँग की गई है। उन्होने बताया कि बैगा परिवार पूरी तरह जंगल पर आश्रित है,लॉक डाउन के कठिन समय में जंगल में महुआ बीन कर जीवन यापन कर रहे हैं। उन परिवार के महिला पुरुषों को आए दिन गन्दी गालियां और घर से निकालने की धमकी दी जा रही थी।इसकी शिकायत ग्रामीणों ने जिलाधीश को मोबाइल के माध्यम से भी की है और इसकी रिपोर्ट बेलगहना चौकी में भी दर्ज कराई है।मिली जानकारी के अनुसार खोंगसरा और टाटीधार के जंगलों में लकड़ी तस्करों के द्वारा आए दिन लकड़ी चोरी का काम किया जा रहा है।सीजीवालडॉटकॉम के व्हाट्सएप NEWS ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक कीजिये

इसकी शिकायत ग्रामीणों ने वन विभाग को दी जिस पर कोई कार्यवाही नहीं की जा रही है।इसकी जानकारी ग्रामीणों ने जनप्रतिनिधियों को दी थी।जिससे आक्रोशित वनपाल ने गांव वालों के साथ ही डराने धमकाने का काम किया और गांव से बैगा परिवार को निकालने की धमकी भी दी। जिस पर ग्रामीण रामसिंह बैगा द्वारा ग्रामीणों के सहयोग से बेलगहना चौकी में रिपोर्ट दर्ज कराई है।रामसिंह बैगा,असदू बैगा,इंद्रावती बैगा,सांभर सिंह बैगा,रामप्रसाद बैगा, संतु बैगा ने बताया कि आए दिन वनपाल द्वारा ग्रामीणों के साथ अभद्र व्यवहार करते हुए गांव से निकालने की धमकी दी जाती है।ऐसे में हम कहां जाएं।

ग्राम पंचायत खोंगसरा,टाटी धार, आमगोहान के पंचायत प्रतिनिधियों ने बताया कि वनपाल द्वारा ग्रामीणों के साथ दुर्व्यवहार की शिकायत मिली थी। हमने भी उनसे बातचीत की उन्होंने हमसे भी गलत तरीके से बर्ताव किया । इसकी शिकायत जिला स्तर पर अधिकारियों से की गई है। आमागोहन ग्रामपंचायत के उपसरपंच रवि प्रताप सिंह ने बताया कि जंगल से मिल रही शिकायतों पर आसपास के पाँच ग्राम पंचायत के सरपंच – पंच – जनपद सदस्य के साथ बातचीत के लिए भी डिप्टी रेंज़र को जानकारी दी गई थी। इस पर भी उन्होने सहयोगात्मक रुख़ अपनाने की बज़ाय दुर्व्यवहार किया । उन्होने बताया कि जिला कलेक्टर को भेजी गई शिकायत की प्रति मुख्यमंत्री, और मुख्य वन संरक्षक को भी दी गई है। जिसमें डिप्टी रेंजर कोहटाने की माँग की गई है।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...