ग्रामीण सड़कों के टेण्डर से पेमेंट तक का Online साफ्टवेयर तैयार,’जियो-रीच साफ्टवेयर’ बनाने वाला ये है देश का पहला राज्य

भोपाल।विश्व बैंक की शर्त के अनुसार प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के टेण्डर से लेकर पेमेंट तक की ऑनलाइन प्रोसेस के लिए Geo-Rich (जियो-रीच) सॉफ्टवेयर बनकर तैयार हो गया है। मध्यप्रदेश एन.आई.सी. के सीनियर टेक्नीकल डॉयरेक्टर विवेक चितले और टीम द्वारा तैयार यह सॉफ्टवेयर देश का पहला सॉफ्टवेयर होगा जिसमें रोड निर्माण की पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन की जाएगी। सॉफ्टवेयर मैनुअल का लोकार्पण 27 अगस्त को होटल कोर्टयार्ड मेरियट में अपर मुख्य सचिव इकबाल सिंह करेंगे। विश्व बैंक के अधिकारियों की टीम भी उपस्थित रहेगी।मुख्य कार्यपालन अधिकारी म.प्र. ग्रामीण सड़क विकास प्राधिकरण नीतेश व्यास ने बताया कि प्रदेश के ऐसे ग्राम, जो प्रधानमंत्री ग्राम सड़क परियोजना के दायरे में नहीं आ पा रहे थे, उनको बारहमासी सड़कों से जोड़ने के लिए मुख्यमंत्री ग्राम सड़क योजना प्रारंभ की गई थी। योजना में निर्मित लगभग 10 हजार किलोमीटर सड़कों को डामरीकृत करने की जिम्मेदारी मध्यप्रदेश ग्रामीण सड़क विकास प्राधिकरण को सौंपी गई है।

इन सड़कों के निर्माण और रख-रखाव के लिए मध्यप्रदेश सरकार और विश्व बैंक तथा एशियन इन्फ्रास्ट्रेक्चर डेव्लपमेंट बैंक के साथ 2275 करोड़ का ऋण समझौता अप्रैल 2018 में किया गया था। समझौते के अनुरूप राज्य सरकार को टेण्डर से लेकर पेमेंट तक की सम्पूर्ण प्रक्रिया पर सतत निगरानी और गुणवत्ता नियंत्रण के लिए ऑनलाइन सिस्टम विकसित करना आवश्यक था।

उल्लेखनीय है कि इससे पूर्व मध्यप्रदेश में प्रधानमंत्री सड़कों के मेन्टेनेंस के लिये e-marg- सॉफ्टवेयर लागू किया जा चुका है जिसे केन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा पूरे देश में लागू किया जा रहा है।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...