CBI ने मंत्री सत्येन्द्र जैन के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति मामले में चार्जशीट फाइल की

Cbi, Rakesh Ashthana, Alok Verma, Corruption,नईदिल्ली।केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन और उनकी पत्नी पूनम के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति मामले में आरोपपत्र दायर कर दिया है. इन दोनों के अलावा आरोपपत्र में सत्येन्द्र जैन के व्यवसाय सहयोगी अजीत प्रसाद जैन, वैभव जैन, सुनील जैन और आयुश जैन का भी नाम है. बता दें कि हाल ही में केंद्र सरकार ने 2017 में सीबीआई द्वारा दर्ज इस मामले में इन सभी के खिलाफ मुकदमा चलाने की अनुमति दी थी. सीबीआई ने यह चार्जशीट दिल्ली के पटियाला हाउस में दाखिल की है.

सत्येन्द्र जैन पर 2009-10 और 2010-11 के दौरान कथित धनशोधन के लिए अकिंचन डेवलपर्स प्राइवेट लिमिटेड, इंडो मेटल इंपेक्स प्राइवेट लिमिटेड, प्रयास इंफोसोल्यूशन प्राइवेट लिमिटेड और मंगलायतन प्रोजेक्ट प्राइवेट लिमिटेड समेत कई फर्जी कंपनियों को खोलने का आरोप है.

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने 29 नवंबर को जैन के खिलाफ सीबीआई द्वारा दर्ज आय से अधिक संपत्ति मामले में मुकदमा चलाने की अनुमति दी थी. इस पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की थी.

गृह मंत्रालय अधिकारी ने कहा था, ‘इन फर्जी कंपनियों का कोई भी वास्तविक व्यापार नहीं था. सत्येंद्र जैन ने कोलकाता के तीन हवाला इंट्री ऑपरेटर जीवेंद्र मिश्रा, अभिषेक चोखानी और राजेंद्र बंसल की 54 फर्जी कंपनियों के जरिए 2010-11 और 2015-16 के दौरान 16.39 करोड़ रुपये के धनशोधन किया.’

दिल्ली सरकार के कैबिनेट में स्वास्थ्य, गृह समेत 7 विभाग संभाल रहे सत्येन्द्र जैन ने इन आरोपों से इनकार किया था और कहा था कि सीबीआई की कार्रवाई राजनीति से प्रेरित है.


मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इस कदम की आलोचना की और ट्वीट किया, ‘मोदी जी ने दिल्ली की कच्ची कालोनियों को पक्का करने की स्कीम बनाने के जुर्म में सत्येन्द्र जैन पर ये केस किया है। इन कालोनियों में रहने वाली जनता इस बार मोदी जी को जवाब देगी.’

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...