दिल्ली वालों पर भारी कोटा का ठग…एडिश्नल एसपी से शिकायत…कहा…पीड़ितों ने कहा वापस दिलाएं 25 लाख रूपए

बिलासपुर— नौकरी के नाम पर ठगी के शिकार दिल्ली के दो युवकों ने एडिश्नल एसपी अर्चना से ठग के खिलाफ लिखित शिकायत की है। युवकों ने बताया कि कोटा के एक दम्पत्ति ने रेलवे में नौकरी लगाने के नाम पर 25 लाख रूपए की ठगी की है। अभी तक ना तो नौकरी लगी..और ना ही रूपए मिले हैं। आरोपी ने अब मोबाइल भी बंद कर दिया है। लेकिन पत्नी की मोबाइल अभी भी चालू है…। लेकिन वह कभी दिल्ली से कोटा बुलाती है…तो कभी कोटा पहुंचने पर कहती है कि वह रायपुर से दिल्ली के लिए निकल गयी है। युवकों ने ठगी के आरोपी के खिलाफ सख्त कार्रवाई और रूपए लौटाने की गुहार लगाई है।

                  ठगी के शिकार दिल्ली निवासी गोपाल कृष्ण और विनय कुमार सिंह ने एडिश्नल एसपी अर्चना झा से शिकायत की है। दोनों युवकों ने बताया कि दिल्ली स्थित जे.जे.कालोनी वजीरपुर के रहने वाले हैं। हम दोनों की ठग अमित कुमार कन्नौजिया से भ्रमण के दौरान मुलाकात हुई थी। बातचीत के बाद हम दोनों की कन्नौजिया से घनिष्ठता बढ़ गयी। उसने बताया कि वह सरकारी कर्मचारी है। दोनों की रेलवे में नौकरी लगा सकता है। लेकिन इसके लिए दोनों को 25 लाख रूपए खर्च करने होंगे।

                    दोनों युवकों ने एडिश्नल एसपी को बताया कि अमित ने बातचीत के दौरान यह भी कहा कि उसने कई लोगों को रेलवे में नौकरी लगाया है। उसने कई लोगों का नाम भी लिया। अमित ने यह भी कहा कि रेलवे में यदि नौकरी करना चाहते हैं तो 25 लाख रूपए उसके खाते में डालना होगा।

          गोपाल और विनय ने पत्रकारों को बताया कि अमित कन्नौजिया ने अपना पता ठिकाना बिलासपुर जिले के कोटा बताया। हम लोग प्रभाव में उसके खाते में दस महीने पहले 25 लाख रूपए जमा कर दिए। इसके बाद हम लोगों के कई परिचितों ने भी उससे सम्पर्क किया। उन लोगों ने भी अमित कन्नौजिया के खाते में नौकरी के लिए लाखों रूपए जमा किए। लेकिन किसी की नौकरी नहीं लगी। अमित कन्नौजिया ने अब मोबाइल भी बंद कर दिया है।

            गोपाल और विनय के अनुसार खाते में पैसा जमा करने से पहले आरोपी कन्नौजिया ने हम लोगों को वाट्सअप पर रेलवे के कई महत्वपूर्ण दस्तावेज भी भेजे थे। कई लोगों को नौकरी पर लगाए जाने के प्रमाण भी भेजा था। जिसके कारण हम लोगों ने उस पर विश्वास कर लिया और रूपए बताए गए खाते में जमा भी कर दिया।

                      गोपाल और विनय ने बताया कि अमित की पत्नी ने उन्हें पैसा लेने के लिए कोटा बुलाया गया। आज जब हम लोग रूपए लेने बिलासपुर पहुंचे तो फोन से सम्पर्क के दौरान अमित की पत्नी ने कहा कि वह रायपुर से दिल्ली के लिए रवाना हो चुकी है। दोनों ने लिखित शिकायत कर कहा कि उन्हें रूपए लौटाए जाएं।

दिल्ली में लेन देन..कोटा थाना भेजा

                   एडिश्नल एसपी ने बताया कि दोनों की शिकायत को गंभीरता से लिया गया है। जानकारी के अनुसार दोनो युवकों के अलावा आरोपी ने अन्य लोगों से नौकरी लगाने के नाम पर करोड़ों की ठगी की है। मामले को कोटा थाना के संज्ञान में लाया गया है। दोनों युवकों को कोटा थाना में शिकायत दर्ज कराने को कहा गया है।

                      अर्चना झा के अनुसार दोनों युवकों ने दिल्ली में ही ठग को 25 लाख रूपये दिए हैं। जहां तक हमे जानकारी है कि इस प्रकार की अन्य शिकायतें भी पुलिस को मिली है। शिकायत के बाद आरोपी की तलाश की जाएगी। मामले को दिल्ली पुलिस के संज्ञान में भी लाया जाएगा।

ठग ने धूमधाम से मनाया था जन्मदिन

दिल्ली के दोनों युवकों ने बताया कि अमित कन्नौजिया कोटा में किराए के मकान में रहता है। हम लोगों को मकान मालिक ने बताया कि दोनों ने करीब तीन महीने पहले मकान छोड़ दिया है। तीन चार महीने पहले अमित और उसकी पत्नी ने बेटी का जन्मदिन धूमधाम से मनाया था। महामाया मंदिर में पूजा पाठ के बाद भव्य पार्टी का भी आयोजन किया गया था।

पार्टी में कई विभागों के अधिकारी शामिल

दोनों ने युवकों ने बताया कि मकान मालिक के अनुसार पार्टी में रेलवे के अालाधिकारी शामिल हुए थे। पार्टी में बहुत भीड़ थी। कई पुलिस वाले भी शामिल हुए थे। दोनों युवकों ने बताया कि जानकारी के अनुसार अमित कन्नौजिया छेरका बांधा स्थित वेलकम डिस्लेरी में काम करता था। यकायक वह पैसे वाला हो गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *