लाखों रूपए की ठगी का आरोपी पकड़ाया..सस्ते दर पर एअर टिकट के नाम बनाया शिकार…रांची से गिरफ्तार

बिलासपुर— सस्ते एअर टिकट का झांसा देकर लाखों की ठगी करने वाले आरोपी को पुलिस ने रांची झारखण्ड से गिरफ्तार किया है। आरोपी पर बिलासपुर समेत रायपुर में भी मामला दर्ज है। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर न्यायालय के हवाले कर दिया है।

                  बिलासपुर पुलिस ने रांची झारखण्ड से सस्ते दर पर एअर टिकट का झांसा देकर लाखों की ठगी करने वाले आरोपी को धर दबोचा है। आरोपी का नाम रविशंकर ओझा है। आरोपी मूल रूप से डाल्टनगंज झारखण्ड का रहने वाला है। पुलिस के अनुसार आरोपी के खिलाफ चकरभाठा,कोतवाली,सिरगिट्टी थाना के अलावा तेलीबांधा रायपुर में ठगी का मामला दर्ज है।

           पुलिस के अनुसार लगातार मिल रही ठगी की शिकायत को पुलिस कप्तान अभिषेक मीणा ने गंभीरता से लेते हुए आरोपी को पकड़ने टीम का गठन किया। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ओपी शर्मा के निर्देश पर थाना प्रभारी मोहम्मद कलीम की अगुवाई में पुलिस की एक संयुक्त टीम को रविशंकर को गिरफ्तार करने झारखण्डा के लिए रवाना की गयी।

                       रांची में लगातार झानबीन के बाद ठग को रांची के हॉटल द केन के बाहर गिरफ्तार किया गया। खुलासा में पुलिस ने बताया कि रविशंकर को रायपुर की पुलिस भी तलाश कर रही थी। रविशंकर ने रायपुर स्थित मैग्नेटो माल में मितान ट्रेव्हल एजेंसी के नाम एअर टिकट बुकिंग का काम करता था। आरोपी अहमदाबाद में मैनेजर के पद पर काम किया करता था। 2016 में स्थानांतरण में रायपुर आया। मैग्नेटो माल में मितान वेकेसन्स के नाम पर एजेंसी का संचालन शुरू किया।

                             इसी बीच लोगों से लगातार सम्पर्क के दौरान रविशंकर ने लोगों को बाउचर का झांसा देना शुरू कर दिया। महंगे एअर टिकट को सस्ते में देने का लालच दिया। ऐसा कर उसने अपना कारोबार बिलासपुर दुर्ग समेत छत्तीसगढ़ के अन्य शहरो में फैला लिया। इसी क्रम में उसने हाईकोर्ट अधिवक्ता राजकुमार वाजपेयी को अपना शिकार बनाया। आरोपी रविशंकर ओझा ने राजकुमार वाजपेयी से 27000 लेकर राशि को गबन कर दिया। राजकुमार ने मामले की शिकायत कोतवाली थाने में की।

     पुलिस के अनुसार आरोपी  रविशंकर ओझा पर ठगी के सैकड़ों मामले प्रदेश के विभिन्न थानो में दर्ज है। आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *