यदि समिति के सदस्य करेंगे झगड़ा…तो अध्यक्ष पर होगी कार्रवाई…पुलिस का फरमान…नशेड़ियों पर भी गिरेगी गाज

बिलासपुर— गणेश विसर्जन के मद्देनजर पुलिस की सभी समितियों के साथ बैठक हुई। बैठक में गणेश विसर्जन को शांति पूर्वक संपन्न कराने के लिए सभी से सहयोग मांगा गया। इस दौरान शहर के सभी समितियों से वॉलिंटियर को भी बुलाया गया। 12 और 13 सितम्बर को होने वाले गणेश विसर्जन कार्यक्रम को शांति के साथ मनान के फैसला किया है। पुलिस प्रशासन ने बताया कि गणेश विसर्जन का कार्यक्रम छठ घाट और पचरी घाट में होगा। लाइट ,गोताखोर और क्रेन की व्यवस्था की गयी है। इस दौरान ट्रैफिक व्यवस्था का पूरा इंतजाम रहेगा। लेकिन लाउडस्पीकर बजाने का समय निर्धारित रहेगा। साथ ही पुलिस प्रशासन ने स्पष्ट किया कि विसर्जन के दौरान नशाखोरो पर सख्त कार्यवाही की जाएगी।
                      पुलिस कप्तान प्रशांत अग्रवाल के निर्देश पर आज बिलासागुड़ी में सभी थाना प्रभारियों के साथ गणेश विसर्जन समिति के सदस्यों की बैठक हुई। इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ओम प्रकाश शर्मा और सीएसपी विश्व दीपक त्रिपाठी विशेष रूप से मौजूद थे। बैठक में गणेश विसर्जन के दौरान आने वाली समस्याओं पर खुलकर बातचीत हुई। बैठक में प्रतिमाओ  को विसर्जन करने के दौरान विसर्जन स्थल पर किसी प्रकार की गुंडागर्दी, छेड़छाड़ नहीं करने की बात को स्पष्ट रूप से सबके सामने रखा गया। नशा के साथ डांस करने वालों पर सख्त कार्रवाई की बात पुलिस अधिकारियों ने कही।
            अधिकारियों ने बताया कि विसर्जन कार्यक्रम दो दिनों तक चलेगा। 12 और 13 सितम्बर को निर्धारित स्थान पचरीघाट और छठ घाट पर गणेश प्रतिमा का विसर्जन किया जाएगा। अधिकारियों ने बताया कि समितियों की जिम्मेदारी है कि लाउडस्पीकर  को समय पर बंद करेंगे। दस बजे के बाद लाउडस्पीकर बजाए जाने पर कार्रवाई होगी। यदि समिति के लोग लड़ाई झगड़ा या  गुंडागर्दी करते पाए गए  तो अध्यक्ष के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।
                  विसर्जन के दौरान सभी समिति शांति व्यवस्था बनाए रखेंगे ।  जो समिति पश्चिमी घाट और छठ घाट से अन्य जगह जाकर मूर्तियां विसर्जन करेंगे उन्हे हर हालत में अपना काम दिन में करना होगा। क्योंकि रात में वहां लाइटिंग की व्यवस्था नहीं है।
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...