पहले हुए हम प्याला…इसके बाद दोनों ने मिलकर उतारा मौत के घाट…24 घंटे बाद पकड़ में आए हत्या के आरोपी

बिलासपुर–कोनी थाना क्षेत्र के गतौरी निवासी प्रफुल्ल लोनिया की मौत की गुत्थी को पुलिस ने झुलझा लिया है। पूछताछ और जांच पड़ताल के बाद मृतक के आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। आरोपियों ने शराब पीने के बाद गाली गलौच के दौरान प्रफुल्ल लोनिया को मौत के घाट उतारा था। इसके बाद आरोपी लाश को सोसायटी के पीछे छोड़कर चले गए थे।

                 एडिश्नल एसपी ओमप्रकाश शर्मा ने बताया कि 18 सितम्बर की सुबह जितेन्द्र लोनिया ने गतौरी  निवासी ज्वाला प्रसाद लोनिया पिता बलराम लोनियो को उसके भाई की मौत होने की जानकारी दी। जितेन्द्र ने सुबह साढ़े पांच बजे घर पहुंचकर जितेन्द्र को बताया कि प्रफुल्ल लोनिया की लाश सोसायटी के पीछे पड़ा हुआ है।

              खबर मिलते ही ज्वाला प्रसाद अपने भाई को देखने मौके पर पहुंचा। उसने पाया कि किसी ने भाई के सिर पर प्राणघातक हमला कर मौत के घाट उतार दिया है। मामले की जानकारी ज्वाला प्रसाद ने तत्काल कोनी पुलिस को दी। जानकारी मिलते ही कोनी पुलिस मौके पर पहुंची। मर्ग कायम करने के बाद आरोपियों की तलाश शुरू हुई।

               ओमप्रकाश ने बताया कि जांच पड़ताल के दौरान जानकारी मिली कि घटना वाली रात को नारायण साहू , शिवभोले साहू और मृतक प्रफुल्ल साहू समेत दो अन्य लोगों ने एक साथ शराब पिया है। जानकारी के बाद आरोपियों की पता साजी की गयी। इसके बाद हत्या के आरोपियों को धर दबोचा गया।

     एडिश्नल एसपी ने बताया कि घटना की रात नारायम साहू सेन्दरी स्थित शराब दुकान से 6 पाव शराब खरीदा। मनोज साहू की दुकान से चखना और डिस्पोजल खरीदा। खरीद फरोख्त के बाद नारायण साहू  शिवभोले साहू और मृतक प्रफुल्ल लोनिया सोसायटी के पीछे शराब पीने चले गए। उसी समय कमल साहू भी आ गया। नारायण साहू ने फोन से शेखर सिंह को भी शराब पीने के लिए बुला लिया।

              पांचो ने बैठकर शराब पिया। नशा चढ़ते ही मृतक प्रफुल्ल लोनिया शिवभोले को तेली कहकर गाली गलौच करने लगा। इसके शिवभोले और नारायण साहू प्रफुल्ल को मारने लगे। शेखर और कमल साहू ने मना किया। लेकिन दोनों नहीं माने…बात नहीं मानते देख दोनों मौके से चले गए। इसके बाद दोनों ने मिलकर एक बल्ली से मिलकर प्रफुल्ल पर जानलेवा हमला किया। गंभीर चोट खाने के बाद प्रफुल्ल की मौके पर ही मौत हो गयी।

                  एडिश्नल एसपी ने जानकारी दी कि हत्या के आरोपी शिवभोले और नारायण साहू को भुंडा भरारी गांव से हिरासत में लिया गया। पूछताछ के बाद दोनों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *