जमीन विवाद-दंपत्ति की सुपारी देकर करवाई थी हत्या,3 गिरफ्तार

जशपुरनगर। कांसाबेल पुलिस ने दंपत्ति को गोली मारकर हत्या करने सुपारी देने वाले 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों ने 1 लाख 20 हजार रु. में सुपारी देकर हत्या कराई थी। हत्या करने वाले आरोपियों की धरपकड़ के लिए 3 टीमें लगातार पता-तलाश में लगी है।पुलिस के अनुसार घटना 9 जुलाई की रात्रि लगभग 10 बजे ग्राम जामुण्डा चौकी दोकड़ा थाना कांसाबेल में संदीप पन्ना उम्र 35 साल तथा द्रोपति बाई उम्र 35 साल को अज्ञात आरोपियों ने गोली मारकर हत्या दिया। मृतिका द्रोपति बाई के पूर्व पति जयनाथ सिंह उम्र 42 साल की उक्त रिपोर्ट पर थाना कांसाबेल में अज्ञात आरोपियों के विरूद्ध जुर्म पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

प्रकरण की जांच दौरान गठित पुलिस टीम द्वारा तत्परतापूर्वक कार्रवाई कर प्रकरण के संदेही आरोपी दर्शन राम, संदीप राम एवं शिवमंगल उर्फ बंदरा को अभिरक्षा में लेकर पूछताछ किया गया।संदेही दर्शन राम ने बताया कि उसे शासन द्वारा जमीन पट्टा प्रदाय किया गया है, ठीक उसी के बगल में संदीप पन्ना की जमीन है। गत23 अप्रैल को उक्त जमीन विवाद की बात को लेकर द्रोपति बाई तथा संदीप पन्ना के द्वारा उसे लाठी-डंडा एवं लोहे की टांगी से मारपीट किया गया था, उक्त मारपीट से उसका हाथ टूट गया है एवं संदीप पन्ना उसे टांगी लेकर मारने दौड़ाया था, किन्तु वह दौडक़र भाग गया। संदीप पन्ना ने दर्शन राम को धमकी दिया था कि जहां भी मिलेगा उसे मारकर खत्म कर देगा। संदीप पन्ना के धमकी एवं डर से दर्शन राम अपना घर-परिवार छोडक़र अपने छोटे भाई के साथ अन्यत्र रह रहा था।

इसी बीच दर्शन राम ने अन्य सहयोगी आरोपियों से संपर्क किया तथा अपनी परेशानी को उन्हें बताया, साथ ही वह गांव के संदीप राम, शिवमंगल राम उर्फ बंदरा से भी संपर्क कर वे सभी संदीप पन्ना तथा द्रोपती की हत्या करने की योजना बनाये, सभी एक-दूसरे से लगातार बातचीत करते थे।हत्या की घटना को अंजाम देने के लिये फरार सहआरोपी ने बाहर के बदमाशों से संपर्क किया और उनके मध्य रू. 1,20,000 /- (एक लाख बीस हजार रु.) में सौदा तय कर 9 जुलाई के दिन में सहआरोपी के द्वारा 3 अन्य शूटर को कांसाबेल के डंडाजोर जंगल में बुलाकर एकत्र कर पुन: योजना बनाया गया। इसके बाद वे  कटंगखार के बैगामुड़ी नाला के पास रात्रि लगभग 8 बजे सभी पुन: एकत्र होकर योजना बनाये तथा इस दौरान वे सभी एकसाथ बैठकर शराब पीये।

बाहर से आये शूटरों द्वारा संदीप राम तथा शिवमंगल राम को संदीप पन्ना तथा द्रोपती बाई की पहचान कराने एवं उनका घर दिखाने के लिए कहा गया था। उसी दिनांक की रात्रि लगभग 10 बजे सभी आरोपी संदीप पन्ना तथा द्रोपती बाई के घर गये और शराब मांगने का बहाना बनाकर आंगन में बुलाये। संदीप पन्ना के आने पर उसे पीछे से पकडक़र उसके सिर में गोली मारकर हत्या कर दिये, गोली चलने की आवाज सुनकर द्रोपति बाई अपने घर स्थित बाड़ी की ओर भाग रही थी, जिसे दौड़ाकर पकड़े एवं आंगन में ले जाकर पहचान कराकर उसके कनपटी में गोली मारकर हत्या कर देना बताये। गोली से हत्या नहीं कर पाने पर चाकू से हत्या करने की योजना थी।

प्रकरण के आरोपी दर्शन राम (37) जामुण्डा,  संदीप राम (33) चोंगरीबहार,  शिवमंगल उर्फ बंदरा (41) चोंगरीबहार को 13 जुलाई  को गिरफ्तार कर न्यायिक अभिरक्षा में भेजा गया है। प्रकरण की घटना में शामिल अन्य आरोपीगण फरार हैं, जिनकी लगातार पता-तलाश की जा रही है। आरोपियों से  मोबाईल 2 नग, बैंक पासबुक 01 नग,  मोटर सायकल 01 नग, चाकू (गुप्ती) कपड़े का गमछा जब्त किया गया।   

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *