18 राज्यों में 14 अक्टूबर तक भारी बारिश की चेतावनी, चक्रवाती डिप्रेशन सहित तीन सिस्टम सक्रिय, जानें मौसम विभाग का अपडेट

मौसम (weather update) में नवीन बदलाव देखने को मिल रहे हैं। राज्यों में बारिश की गतिविधियों (heavy rain) में तेजी से इजाफा हो रहा है। दूसरी तरफ कई राज्यों में ठंड (cold) की गुलाबी दस्तक भी शुरू हो गई है। IMD Alert ने बिहार झारखंड सहित उत्तर प्रदेश जिला गुना मध्य प्रदेश कर्नाटक आंध्र प्रदेश और उत्तराखंड में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है।अपडेट के लिए हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़े,यहां क्लिक करें

इन क्षेत्रों के लिए येलो ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। 20 अक्टूबर के बाद देश में ठंड की दस्तक देखने को मिल सकती है। पर्वतीय राज्यों में बर्फबारी के दौर शुरू हो गया है जबकि बंगाल की खाड़ी में बने निम्न दाब के क्षेत्र के पश्चिम की तरफ बढ़ने के कारण पश्चिमी राज्यों में भी बारिश की गतिविधियां संचालित होगी।

इससे पहले दिल्ली में मौसम में बदलाव देखने को मिला। दिल्ली एनसीआर में आज सुबह हल्की बूंदाबांदी से मौसम सुहावना बना हुआ है। दिल्ली में कुछ दिन तक मौसम ऐसे ही रहने के आसार जताए गए हैं। प्रदूषण में भी कमी देखी जा रही है। दिन भर से बादल छाए हुए हैं। मौसम सुहावना होने के साथ ही तापमान में 3 फीसद की गिरावट रिकॉर्ड की गई है। अधिकतम तापमान 30 डिग्री जबकि न्यूनतम तापमान 21 डिग्री सेल्सियस से बना हुआ है।

यूपी में भारी बारिश का अलर्ट

उत्तर प्रदेश की बात करें तो उत्तर प्रदेश में अगले 2 दिन तक तेज बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।तेज बारिश की संभावना को देखते हुए प्रशासन को मुस्तैद रहने की सलाह दी गई है। उत्तर प्रदेश में मानसून की विदाई हो चुकी है। हालांकि चक्रवर्ती सिस्टम सक्रिय होने का प्रभाव देखने को मिल गया और विदाई की बेला से पहले मानसून की सक्रियता से उत्तर भारत में जीवन अस्त-व्यस्त बना हुआ है।

वही बंगाल की खाड़ी में पैदा हुए सुपर साइक्लोन नोरु का असर उत्तर प्रदेश में देखने को मिलेगा। दरअसल उत्तर प्रदेश में मानसून की वापसी को रोकते हुए पश्चिमी राज्य की तरफ साइक्लोन तेजी से आगे बढ़ रहा है। जैसे कि राज्य में बारिश हो रही है। 10 अक्टूबर तक उत्तर प्रदेश में बारिश की संभावना जताई गई है।

बिहार में भारी बारिश का अलर्ट

बिहार में भी मानसून की विदाई जल्द ही देखने को मिलेगी। शरद ऋतु के साथ ही पटना सहित कई जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। मंगलवार बुधवार को पटा सहित आसपास के जिलों में बारिश की संभावना जताई गई है। पश्चिम चंपारण में एक दो जगह पर अति भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया गया है। शेष भाग में मौसम धीरे-धीरे साफ होने के आसार नजर आ रहे 15 अक्टूबर तक प्रदेश में ठंड का दौर शुरू हो जाएगा।

उत्तराखंड में भारी बारिश का अलर्ट

उत्तराखंड में भारी बारिश का अलर्ट जारी कर दिया गया है। टिहरी जिले में स्कूलों को बंद कर दिया गया है। सुबह में भारी बारिश को लेकर प्रशासन को अलर्ट पर रखा गया। भूस्खलन और गरज चमक के साथ वज्रपात की भी चेतावनी जारी की गई है। 10 अक्टूबर को आसमान में आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे। कई हिस्से में गर्जना के साथ आंधी पानी की चेतावनी जारी की गई।

मौसम प्रणाली

  • मराठवाड़ा के ऊपर एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है, और एक ट्रफ रेखा शुक्रवार को चक्रवाती परिसंचरण से उत्तर की ओर पश्चिम उत्तर प्रदेश में फैली हुई है।
  • चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र उत्तर-पश्चिम की ओर धीरे-धीरे आगे बढ़ेगा, वहीं ट्रफ का उत्तरी छोर पश्चिमी उत्तर प्रदेश या हरियाणा पर कई दिनों तक रुका रहेगा।
  • ये सिस्टम कई दिनों तक मध्य भारत, पश्चिम भारत, उत्तरी दक्षिण भारत और उत्तर भारत के पूर्वी हिस्सों में स्थानीय रूप से भारी बारिश के साथ व्यापक बारिश का उत्पादन करेंगे।
  • सबसे गंभीर अवधि शुक्रवार से शनिवार होगी, जिसमें पश्चिम उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में कुल 200-300 मिमी बहुत भारी से अत्यधिक भारी गिरावट होगी।
  • एक और चक्रवाती परिसंचरण रविवार को दक्षिण प्रायद्वीपीय भारत में बारिश का विस्तार करने के लिए बंगाल की खाड़ी से तटीय आंध्र प्रदेश की ओर बढ़ेगा।
  • पूर्व की ओर, दक्षिण-पश्चिमी हवाएँ कई दिनों तक पूर्वोत्तर भारत में प्रत्येक दिन 50 मिमी की स्थानीय रूप से भारी गिरावट के साथ लगातार बारिश का उत्पादन करेंगी।

उत्तर प्रदेश हरियाणा सहित इन क्षेत्रों में भारी बारिश

उत्तर पश्चिम भारत सहित हरियाणा उत्तराखंड हिमाचल प्रदेश और राजस्थान पंजाब के कुछ इलाकों में भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। अगर चमक की संभावना जताते हुए मौसम विभाग ने तापमान में 5 फीसद की गिरावट की उम्मीद जताई है।

झारखंड में 13 अक्टूबर तक भारी बारिश की चेतावनी

झारखंड में 11 अक्टूबर तक बारिश से कोई राहत नहीं होने वाली है। रांची मौसम विभाग केंद्र की मानें तो 15 अक्टूबर तक मध्यम दर्जे की बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। 7 अक्टूबर को कई जगह पर भारी बारिश की संभावना जताई गई है। चमक के साथ बात की संभावना को देखते हुए प्रशासन को अलर्ट पर रखा गया है। इसके अलावा दिन भर कड़ी धूप रहने के बाद शाम में मौसम में बदलाव देखने को मिलता है। भारी बारिश की चेतावनी से इनकार किया गया है।

पश्चिम बंगाल उड़ीसा में ऑरेंज अलर्ट

पश्चिम बंगाल और उड़ीसा में भी भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। दरअसल पश्चिम बंगाल के 13 जिलों में बारिश की संभावना जताई गई है। वही उड़ीसा में भी भारी बारिश का अलर्ट जारी कर दिया गया है। दरअसल आंध्र प्रदेश और आसपास के क्षेत्रों में बने चक्रवाती दबाव का असर उड़ीसा आंध्र के तट पर पड़ रहा है। आंध्र प्रदेश और उसके आसपास के इलाकों में मूसलाधार बारिश की संभावना जताई गई है। उड़ीसा के दक्षिणी हिस्सों में मूसलाधार बारिश का दौर जारी है। मौसम विभाग केंद्र ने 13 अक्टूबर तक क्षेत्रों में बारिश की संभावना जताई है।

मध्य प्रदेश छत्तीसगढ़ में बारिश की संभावना

वहीं मौसम विभाग ने भोपाल और छत्तीसगढ़ में भी बारिश की चेतावनी जारी की है। दरअसल भोपाल जबलपुर सहित कई जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी कर दिया गया है। वहीं किसानों की सोयाबीन की फसल भी खराब हो सकती है। मध्यप्रदेश में तीन वेदर सिस्टम एक्टिव है। जिसके कारण वातावरण में नमी बनी हुई तेज बारिश की संभावना जताई गई। जबलपुर मौसम विभाग ने पश्चिमी मध्य प्रदेश में बारिश का अलर्ट जारी किया है। जिन जिलों में बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। उसमें रीवा शहडोल डिंडोरी कटनी सागर सिवनी के अलावा छतरपुर आदि शामिल है.

दक्षिण और पूर्वी राज्य में बारिश का अलर्ट

महाराष्ट्र केरल कर्नाटक के कुछ हिस्सों में भी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। दरअसल महाराष्ट्र मध्य प्रदेश छत्तीसगढ़ सहित बिहार झारखंड असम मेघालय मणिपुर नागालैंड में बारिश की संभावना जताई गई है। साथ ही येलो अलर्ट जारी किया गया। प्रशांत महासागर की तरफ से आ रही की वजह से बंगाल की खाड़ी में साइक्लोनिक सरकुलेशन की स्थिति बनी हुई है। जिसके पश्चिम की तरफ आगे बढ़ने के कारण 20 से अधिक राज्य में बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।

मध्य, पश्चिम और दक्षिण भारत और आसपास के क्षेत्रों में स्थानीय स्तर पर भारी बारिश के साथ व्यापक बारिश की संभावना है। पूर्वोत्तर भारत में भारी बारिश हो सकती है। उत्तराखंड में भारी बारिश की संभावना है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश में बहुत भारी गिरावट की संभावना है। अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, अरुणाचल प्रदेश, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और पश्चिम मध्य प्रदेश में गरज के साथ व्यापक बारिश होने की संभावना है।

नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, झारखंड, बिहार, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, गुजरात क्षेत्र, कोंकण, गोवा, मध्य महाराष्ट्र, विदर्भ, छत्तीसगढ़, तमिलनाडु, पुडुचेरी, कराईकल, आंतरिक कर्नाटक, केरल में गरज के साथ छिटपुट बौछारें पड़ने की संभावना है। पंजाब, हिमाचल प्रदेश और पश्चिमी राजस्थान में गरज के साथ छिटपुट बारिश की संभावना है। दक्षिण भारत के अलग-अलग स्थानों पर सुबह के समय हल्का से मध्यम कोहरा संभव है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *