हमार छ्त्तीसगढ़

Monsoon Forecast- बारिश-अंधड़ का अलर्ट:कई जिलों में अधिकतम तापमान में गिरावट

Monsoon Forecast-छत्तीसगढ़ में पिछले 2 दिनों से बारिश और अंधड़ चलने की वजह से कई जिलों में अधिकतम तापमान (Aaj ka Mausam) में गिरावट आई है और गर्मी से राहत मिली है। मौसम विभाग के मुताबिक प्रदेश में आज और कल अधिकतम तापमान में हल्की बढ़ोतरी होगी। आज सरगुजा और बिलासपुर संभाग के जिलों में अंधड़ और बिजली गिरने के साथ हल्की बारिश के आसार हैं।

Join Our WhatsApp Group Join Now

मध्यप्रदेश में तेज गर्मी के बीच पिछले तीन दिन से लगातार बारिश हो रही है। ऐसा वेस्टर्न डिस्टरबेंस (पश्चिमी विक्षोभ) और साइक्लोनिक सर्कुलेशन के एक्टिव होने से हो रहा है। गुरुवार को भी कई जिलों में बारिश हुई। सागर में ओले भी गिरे। अगले चार दिन ऐसा ही मौसम रहेगा। मौसम विभाग ने आंधी, बारिश और ओले गिरने का अलर्ट जारी किया है। इससे गर्मी से थोड़ी राहत भी मिल सकती है।

Monsoon Forecast-गुरुवार को प्रदेश में सबसे ज्यादा तापमान 40 डिग्री रायगढ़ जिले में रिकॉर्ड किया गया। सबसे कम टेंपरेचर नारायणपुर में 19.9 डिग्री दर्ज किया गया । इसके आलावा बाकी सभी जिलों में दिन का पारा 35 से 39 डिग्री के आसपास ही रहा। पिछले तीन दिनों से यही स्थिति है।

Monsoon Forecast-छत्तीसगढ़ के सरहदी इलाकों में अभी भी तीन सिस्टम बने हुए हैं। इस वजह से अगले 12 मई तक सरगुजा संभाग में अंधड़ और बिजली गिरने के साथ बारिश के आसार हैं। इसके आलावा 12 और 13 मई को सरगुजा और बस्तर संभाग के जिलों में बादल गरजने के साथ अंधड़ भी चलेगी।

Monsoon Forecast-मौसम में बदलाव की वजह से रायपुर संभाग में तापमान में गिरावट आई है। गुरुवार को राजधानी में 36.7 डिग्री तापमान रहा, जो सामान्य से 4 डिग्री कम है। वहीं, आज दिन के तापमान के 38 डिग्री के आसपास रहने के आसार हैं। मौसम विभाग की रिपोर्ट के अनुसार अभी एक-दो दिन रायपुर में गर्मी से राहत रहेगी।

गुरुवार को सरगुजा संभाग के ज्यादातर इलाकों में रुक‌‌-रुक कर बारिश होती रही। तेज हवा और गरज-चमक के साथ सरगुजा, सूरजपुर, बलरामपुर, कोरिया में भी बारिश हुई है। जिससे लोगों को गर्मी से राहत मिली। अंबिकापुर में अधिकतम तापमान 36.4 डिग्री रिकॉर्ड किया गया, जो सामान्य से 3 डिग्री कम था। वहीं, रात का पारा 22.5 डिग्री रहा जो औसत तापमान से 2 डिग्री कम था।

Monsoon Forecast-मौसम विभाग के मुताबिक गुरुवार को बिलासपुर में अधिकतम तापमान 38.4 डिग्री रिकॉर्ड किया गया। वहीं, रात का तापमान 25.8 डिग्री रहा। दिन का तापमान सामान्य से 5 डिग्री कम रहा और रात का पारा औसत से 1 डिग्री कम रिकॉर्ड किया गया है।

दुर्ग में दिन और रात का तापमान सामान्य से कम

Monsoon Forecast-गुरुवार को दुर्ग में अधिकतम तापमान 37.6 डिग्री और रात का तापमान 22.6 डिग्री रिकॉर्ड किया गया। दिन का तापमान सामान्य से चार डिग्री कम और रात का तापमान सामान्य से 5 डिग्री कम रहा।

Monsoon Forecast-मई के दूसरे पखवाड़े में तेज गर्मी पड़ेगी

मौसम विभाग के मुताबिक तीनों सिस्टम के असर से ही प्रदेश में गर्मी के इस पीक सीजन में भी दिन का तापमान सामान्य से 4-5 डिग्री कम है। इस वजह से गर्मी ज्यादा बेचैन नहीं कर रही है। आने वाले 24 घंटों के दौरान भी तापमान सामान्य से कम ही रहेगा।

48 घंटे बाद ही पारा चढ़ने लगेगा और गर्मी बढ़ेगी, लेकिन पारा सामान्य या उससे अधिक नहीं पहुंचेगा। एक्सपर्ट्स के अनुसार मई के दूसरे पखवाड़े में तेज गर्मी पड़ेगी।

मध्यप्रदेश में तेज गर्मी के बीच पिछले तीन दिन से लगातार बारिश हो रही है। ऐसा वेस्टर्न डिस्टरबेंस (पश्चिमी विक्षोभ) और साइक्लोनिक सर्कुलेशन के एक्टिव होने से हो रहा है। गुरुवार को भी कई जिलों में बारिश हुई। सागर में ओले भी गिरे। अगले चार दिन ऐसा ही मौसम रहेगा। मौसम विभाग ने आंधी, बारिश और ओले गिरने का अलर्ट जारी किया है। इससे गर्मी से थोड़ी राहत भी मिल सकती है।

‘अभी तीन वेस्टर्न डिस्टरबेंस (पश्चिमी विक्षोभ) एक्टिव हैं। वहीं, साइक्लोनिक सर्कुलेशन सिस्टम और हवा का रुख भी बदला हुआ है। इस वजह से प्रदेश में बारिश का दौर है। कुछ जिलों में ओले भी गिर सकते हैं। 12 मई को प्रदेशभर में मौसम बदला रहेगा। अगले चार दिन तक आकाशीय बिजली गिरने का भी अनुमान है।

गुरुवार को कैसा रहा मौसम

गुरुवार को बैतूल, दमोह, सागर, रीवा, सतना, सिवनी, उमरिया और सीहोर में बारिश हुई। सागर में तो ओले भी गिरे। ​​​​​​बारिश के बीच ही कई जिलों में गर्मी का असर भी रहा। सबसे गर्म टीकमगढ़ और शिवपुरी रहे। यहां दिन का टेम्प्रचेर 43 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। खरगोन, खंडवा और गुना में पारा 42 डिग्री या इससे अधिक ही रहा।

बड़े शहरों की बात करें, तो भोपाल में तापमान 41.9 डिग्री रहा। राजधानी में शाम को मौसम में बदलाव हुआ। इंदौर में 40.6 डिग्री, ग्वालियर में 39.8 डिग्री, जबलपुर में 36.7 डिग्री और उज्जैन में पारा 41.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

बारिश और बादल छाने की वजह से सिवनी में सबसे कम 30.2 डिग्री तापमान दर्ज किया गया। छिंदवाड़ा में 32.2 डिग्री, पचमढ़ी में 33.4 डिग्री और बालाघाट जिले के मलाजखंड में पारा 34 डिग्री दर्ज किया गया।

10 मई: नर्मदापुरम, बैतूल, छिंदवाड़ा, पांढुर्णा, सिवनी, मंडला और बालाघाट में बारिश के साथ ओले भी गिर सकते हैं। भोपाल, इंदौर, उज्जैन, जबलपुर, मुरैना, श्योपुरकलां, शिवपुरी, नीमच, मंदसौर, रतलाम, झाबुआ, अलीराजपुर, धार, बड़वानी, खरगोन, बुरहानपुर, खंडवा, हरदा, रायसेन, विदिशा, सीहोर, देवास, शाजापुर, आगर-मालवा, विदिशा, राजगढ़, नरसिंहपुर, जबलपुर, कटनी, मैहर, उमरिया, शहडोल, डिंडोरी, रीवा, मऊगंज, सीधी और सिंगरौली में भी मौसम बदला रहेगा। गरज-चमक, बूंदाबांदी और बादल की स्थिति रहेगी।

11 मई: भोपाल, इंदौर, उज्जैन, ग्वालियर, श्योपुरकलां, मुरैना, भिंड, दतिया, शिवपुरी, गुना, अशोकनगर, विदिशा, सागर, दमोह, छतरपुर, पन्ना, सतना, रीवा, मऊगंज, सीधी, सिंगरौली, नीमच, मंदसौर, रतलाम, झाबुआ, अलीराजपुर, बड़वानी, धार, आगर-मालवा, राजगढ़, शाजापुर, देवास, खरगोन, खंडवा, हरदा, बैतूल, नर्मदापुरम, रायसेन में गरज-चमक के साथ हल्की बारिश हो सकती है।

12 मई: इस दिन नीमच, मंदसौर, रतलाम और झाबुआ ही ऐसे जिले हैं, जहां धूप खिली रहेगी। बाकी सभी जिलों में मौसम बदला रहेगा। यहां गरज-चमक के साथ बारिश हो सकती है। वहीं, आंधी चलने का अनुमान भी है।

13 मई: इंदौर, देवास, बड़वानी, खरगोन, खंडवा, विदिशा, बैतूल, रीवा, मऊगंज, सीधी, सिंगरौली, पन्ना, दमोह, कटनी, मैहर, शहडोल, अनूपपुर, उमरिया, जबलपुर, मंडला, सिवनी, बालाघाट, नरसिंहपुर, छिंदवाड़ा, पांढुर्णा, बैतूल में भी मौसम बदला रहेगा।

                   

Shri Mi

पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर
Back to top button
close