मेरा बिलासपुर

अग्निवीरों को CAPF और असम राइफल्स में मिलेगा 10 पर्सेंट आरक्षण, गृह मंत्रालय का बड़ा फैसला

केंद्रीय गृह मंत्रालय के अग्निपथ योजना से निकले वाले ‘अग्निवीरों’ के लिए बड़ा ऐलान किया है. गृह मंत्रालय के मुताबिक, केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (CAPFs) और असम राइफल्स की भर्तियों में अग्निवीरों को 10 पर्सेंट आरक्षण दिया जाएगा. इससे पहले कहा गया था कि CAPF और असम राइफल में अग्निवीरों को वरीयता दी जाएगी.गृह मंत्रालय ने ट्वीट करके कहा, ‘MHA ने फैसला लिया है कि CAPF और असम राइफल की भर्तियों के लिए अग्निवीरों को तय उम्र सीमा में तीन साल की छूट भी दी जाएगी. अग्निवीर के पहले बैच वाले जवानों के लिए अधिकतम उम्र के लिए मिलने वाली यह छूट पांच साल की होगी.’ इसके साथ ही, CAPF और असम राइफल की सीटों में से 10 पर्सेंट सीटें अग्निवीरों के लिए आरक्षित की जाएंगी. 

Join Our WhatsApp Group Join Now

अग्निपथ योजना के तहत, साढ़े 17 साल से 21 साल के युवाओं को सेना में भर्ती किया जाएगा. इन्हें 10 हफ्ते से लेकर छह महीने तक की ट्रेनिंग दी जाएगी. इन जवानों को होलोग्राफिक्स, नाइट, फायर कंट्रोल सिस्टम से लैस किया जाएगा. साथ ही, हैंड हेल्ड टारगेट सिस्टम भी जवानों के हाथ में दिए जाएंगे.  इससे पहले, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, असम और कर्नाटक जैसे राज्यों ने भी ऐलान किया है कि अग्निपथ योजना के तहत सेना से रिटायर होने वाले युवाओं को इन राज्यों की नौकरियों में प्राथमिकता दी जाएगी.

देशभर में जारी है ‘अग्निपथ योजना’ का विरोध
अग्निपथ योजना के विरोध में जारी उग्र प्रदर्शन पिछले तीन दिनों से जारी है. बिहार और कई अन्य राज्यों में छात्रों के उग्र प्रदर्शन और आगजनी की घटनाओं के बाद अब राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) ने बिहार बंद का ऐलान किया है. छात्रों के विरोध और हिंसक घटनाओं की वजह से कई रूट पर रेल सेवाएं बंद कर दी गई हैं. देश के अलग-अलग हिस्सों में सैकड़ों युवाओं को गिरफ्तार भी किया गया है.

                   

Shri Mi

पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर
Back to top button
close