किसानों का निकाय मंत्री को चिठ्ठी ..कहा..निगम में शामिल होना पड़ा महंगा..सुविधाओं का टोंटा..माफ करें टैक्स..

बिलासपुर—भारतीय किसान संघ के बैनर तले आज बिरकोना के लोग जिला कार्यालय पहुंचे। किसान संघ ने किसान और बिरकोना वासियों की तरफ से कलेक्टर के नाम निकाय मंत्री को पत्र दिया। पत्र के माध्यम से निगम टैक्स माफ करने का निवेदन किया।

                भारतीय किसान संघ के बैनर तले आज बिरकोना के किसान और स्थानीय धीरेन्द्र दुबे की अगुवाई में जिला कार्यालय पहुंचे। निकाय मंत्री के नाम किसान नेता ने पांच सूत्रीय मांग पत्र कलेक्टर को दिया।

                           धीरेन्द्र दुबे ने बताया पिछले साल प्रदेश सरकार ने एक आदेश जारी कर निगम सीमा विस्तार किया है। इसी क्रम में बिरकोना को निगम में शामिल कर महामाया नगर वार्ड क्रमांक 64 नाम दिया गया। पिछले एक साल में बिरकोना में विकास के कोई काम नहीं हुए। मूलभूत सुविधाओं के नाम पर निगम प्रशासन ने केवल मजाक किया है। बिजली पानी सड़क की हालत काफी खस्ता है। 

                   चूंकि निगम ने पिछले एक साल में विकास का एक भी काम नहीं किया है। यहां ज्यादातर किसान और दिहाड़ी लोगों का रहना होता है। कोरोना के चलते सबको काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा है। यहां आय का कोई दूसरा साधन भी नहीं है। वावजूद इसके निगम प्रशासन ने टैक्स भरने का आदेश दिया है। ऐसे हालत में टैक्स लिया जाना उचित नहीं है।

                धीरेन्द्र ने बताया कि राज्य शासन ने किसानों का रकबा कम कर दिया है। इसके चलते किसानों की परेशानी बढ़ गयी है। अपने उत्पाद को नही बेच पा रहे है। इसलिए किसानों का धान रकबा के आधार पर किया जाए। साथ ही किसानों को वारदाना भी उलब्ध कराया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *