VIDEO-विकास की विकास वाली बात..कहा ..कमीशनखोरी वाले ही करते हैं कमीशन की बात.. ..वैट कम करने का सवाल..दिया गोलमोल जवाब

बिलासपुर–रायपुर विधायक विकास यादव ने कहा कि देश में महंगाई चरम पर है। जनता में हाहाकार है। कल तक गले में फूलमाला पहनकर डीजल पेट्रोल मूल्य वृद्धि रो को लेकर चिल्लाने वालों का आज मुंह बन्द है। हम लोग जन जागरूकता अभियान पदायात्रा के माध्यम से जनता को जागरूक कर रहे हैं। जनता महंगाई से परी तरह परेशान है। लेकिन केन्द्र सरकार चुप्पी साधे हुए है।

केन्द्र के सभी फैसले अदूरदर्शी

          संसदीय सचिव विकास उपाध्याय ने आज कांग्रेस भवन में पत्रकारों से बातचीत की। विकास उपाध्याय ने पत्रकारों के सवाल के पहले महंगाई को लेकर केन्द्र सरकार पर जमकर निशाना साधा। इस दौरान उन्होने जनहित के खिलाफ उठाए लिए गए केन्द्र सरकार के निर्णय को सबके सामने रखा। विकास उपाध्याय ने बताया कि नोटबंदी केन्द्र सरकार का देश के लिेए गलत फैसला था। जीएसटी को गलत तरीके से लागू किया गया। जिसके चलते वस्तुओं का दाम बढ़ा है। केन्द्र सरकार की आर्थिक कुप्रबंधन का खामियाजा देश की जनता को भुगतना पड़ रहा है। 

             संसदीय सचिव ने बताया कि देश की सम्पत्ति को निजीकरण के बहाने बेजा जा रहा है। विकास उपाध्याय ने मोदी सरकार की विदेश नीति के खिलाफ भी जमकर बोला। 

नाचने गाने वाले भाजपा नेता कहां गए

                 केन्द्र सरकार के उलट जितना दाम पेट्रोल डीजल का कम किया गया है..क्या वह उचित है। सवाल को घुमाते हुए संसदीय सचिव ने कहा कि कल तक डीजल पेट्रोल का पचास पैसे दाम बढ़ने पर भाजपा नेता फूल माला पहन कर नाचते गाते थे। आज सबके सब चुप है। 

          क्या वेट टैक्स कम कर ईंधन के दाम कर नहीं किए जा सकते है। विकास ने कहा कि अन्य राज्यों का  वेट टैक्स छत्तीसगढ़ से ज्यादा है। बावजूद इसके प्रदेश सरकार ने वेट कम किया है। पहले केन्द्र सरकार एक्साइज टैक्स तो कम करे।

पहले वैट कम करें..फिर एक्साइज कम

           भाजपा का दावा है कि यदि राज्य सरकार जोगी काल के वेट टैक्स को लागू करे तो हम मनमोहन सिंह के समय का एक्साइज टैक्स लगा देंगे। सवाल के जवाब में विकास यादव ने गोलमोल जवाब दिया। उन्होने बताया कि मुख्यमंत्री लगातार विकास का काम कर रहे है। जनता को प्रदेश सरकार पर भरोसा है। हम जनजागरण यात्रा के माध्यम से केन्द्र सरकार की गलत रीति और नीति को पेश कर रहे है। जनता सबक सिखाएगी।

कमीशनखोरी वाले जाने कमीशन

                     प्रदेश की कांग्रेस सरकार का दावा है कि गांधी विचारधारा के अनुसार राज्य का संचालन किया जा रहा है। बावजूद इसके रेडी टू ईट मशीन से बनाया जाएगा। क्या आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की छुट्टी की जाएगी। पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह जानना चाहते हैं कि क्या कमीशनखोरी का खेल हो रहा है। 

                 सवाल के जवाब में विकास ने कहा कि कमीशनखोरी करने वाले ही कमीशन को जानते है। अभी तो रेडी टू ईट को मशीन से बनाने का फैसला लिया नहीं गया है। हां इस पर विचार विमर्श किया जा रहा है। पौष्टिक आहार देने के लिए सरकार ने बेहतर कदम उठाने का फैसला किया है।

और भी जरूरी काम

                   केन्द्र सरकार ने प्रधानमंत्री आवास योजना का रूपया वापस ले लिया है। क्या आप नहीं चाहते कि गरीबों का आवास बने। यदि नहीं तो आपने अपना अंश योजना को क्यों नहीं दिया। विकास ने कहा किप्रदश सरकार अच्छा काम कर रही है। गरीबों के हित के अनुसार ही नीतियां बनायी जा रही है। आवास से भी ज्यादा महत्वपूर्ण काम भी है।

कमोबेश सभी सवाल का गोलमोल जवाब

             पत्रकार वार्ता के दौरान विकास उपाध्याय ने ज्यादातर सवालों को टालते रहे। हर सवाल का एक ही जवाव घूमा फिराकर देते रहे कि सरकार विकास का काम कर रही है। महंगाई के खिलाफ जनजागरण अभियान चलाया जा रहा है।

पूरा करेंगे वादा

        केन्द्र ने उसना चावल खरीदने से इंकार कर दिया है। बोरा की भारी कमी है। ऐसे राज्य सरकार धान कैसे खरीदेगी। उसना बनाने वाली मिल बन्द होने से बेरोजगारी बढ़ जाएगी। सवाल के जवाब में विकास ने बताया कि हम वादा के अनुसार धान खरीदेंगे। अपनी व्यवस्था भी करेंगे। लेकिन कैसे करेंगे..इस सवाल को उन्होने टाल दिया।

                       पत्रकार वार्ता के दौरान ग्रामीण कांग्रेस अध्यक्ष विजय केशरवानी, शहर अध्यक्ष विजय पाण्डेय, मेयर रामशरण यादव, जिला सहकारी बैंक चैयरमैन प्रमोद नायक, कांग्रेस प्रवक्ता रिशी पाण्डेय युवा नेता जावेद मेमन विशेष रूप से मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *