चिकनी सड़क पर फोटो क्यों नहीं खिंचवाते.देखिए-किस भाजपा सांसद को लेकर गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने कही यह बात…

बिलासपुर— अब रमन सिंह ही बताएंगे कि तीस हजार किलोमीटर सड़क कहां गायब हो गयी। हमारे पास तो सिर्फ 34 हजार सड़क है। सभी जगह निर्माण कार्य चल रहा है। भाजपा नेत्री चार्मिंग चेहरा लेकर गड्डे में सड़क देखने गयी थीं। अच्छा होता है कि वह चार्मिंग चेहरा लेकर चिकनी सड़क को देखती और दिखातीं। यह बातें प्रदेश के गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने बिलासपुर प्रवास के दौरान कही।

                         लोक निर्माण विभाग मंत्री साहू ने कहा कि प्रदेश में 15 साल बाद पुलिसिंग दिखाई दे रही है। यदि पुलिस अधीक्षक कार्यालय में मेडिकल घोटाला हुआ है तो उसकी जांच कराएंगे। साहू ने बताया कि प्रदेश में बेरोजगारी दर ना के बराबर है। जब केन्द्र के मंत्री को नहीं मालूम कि प्रदेश में यात्री गाड़ी का परिचालन बन्द हो गया है। ऐसे में केन्द्र सरकार के प्रबंधन को समझा जा सकता है।

                        परिवार के साथ बिलासपुर प्रवास पर एक दिन पहले प्रदेश के गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू बिलासपुर पहुंचे। शुक्रवार को पत्रकारों से रूबरू हुए। उन्होने सवालो का खुल कर जवाब दिया। विपक्ष पर निशाना साधने के साथ व्यंग्य भी किया।

 कहां गायब हुई सड़क

               पूर् मुख्यमंत्री का कहना है कि प्रदेश में कुल 62 हजार किलोमीटर सड़क है। सड़कों की स्थिति अच्छी है। सवाल उठता है कि प्रदेश में जब 32 हजार किलोमीटर सड़क है..तो 30 हजार किलोमीटर कहां गायब हो गयी। लोकनिर्माण मंत्री ने कहा कि यह तो डॉ.रमन सिंह ही बताएंगे कि सड़क कहां गायब हो गयी। प्रदेश में इस समय 32 हजार किलोमीटर सड़क है। सभी सड़कों में काम चल रहा है।

चिकनी सड़क पर डालती चार्मिंग चेहरा

                       भाजपा नेत्री सरोज पाण्डेय ने अपना चार्मिंग चेहरा गड्ढे वाली सड़क में डलवायी थी। उन्हें ऐसा नहीं करना चाहिए था। चार्मिंग चेहरे को चिकनी सड़क पर डलवाती तो अच्छा होता। क्योंकि जिस गड्ठे में उन्होने अपना चार्मिंग चेहरा डाला। दरअसल वहां काम चल रहा है। सड़क खोदेंगे तभी तो सड़क बनेगी। उन्होने कहां कि चार्मिंग का मतलब अच्छी सड़क से है।

           साहू ने दुहराया कि रमन सिंह को बताना चाहिए कि उन्होने 30 हजार  किलोमीटर बनवाया कहां है। यदि नहीं बनवाया तो उसका पैसा कहां है।हमारे पास 32 हजार किलोमीटर सड़कों के पाई पाई का हिसाब है। साहू ने कहा हमारा सड़क निर्माण कार्यकाल मात्र ढाई साल का है। यदि रमन सिंह ने ईमानदारी से 15 साल अच्छी सड़क बनाते तो आज प्रदेश की तस्वीर अलग होती। उन्होने तीन साल के परफार्मेन्स पर सड़क बनाया। हम 5 साल के परफार्मेन्स पर सड़क बना रहे हैं। नक्सली क्षेत्रों में भी गुण्वत्ता वाली सड़क हमारी सरकार नेर बनायाी है।

 कब महसूस होगा

               छत्तीसगढ़ में पुलिसिंग का अहसास कब होगा। सवाल के जवाब में साहू ने बताया कि 15 साल बाद प्रदेश में पुलिसिंग नजर आयी है। प्रदेश में बेहतर पुलिस व्यवस्था है।पुलिस बहुत अच्छा काम कर रही है।

कानून व्यवस्था का सवाल कहां.

             एक सवाल के जवाब में गृहमंत्री ने कहा कि एक व्यक्ति किसी को घर के अन्दर घुसकर मारे..यहां कानून व्यवस्था की बात कहां से आ गयी। कुछ अजीब सा लोग प्रश्न करते हैं। कानून  व्यवस्था का सवाल  घर से बाहर सड़कों पर उठता है। यदि हमारी पुलिस चक्का जाम, सार्वजनिक स्थल पर मारपीट. या हिंसक घटनाओं पर काम नहीं करती है तो कानून व्यवस्था की बात होती है।हर घर में पुलिस व्यवस्था संभव नहीं है। दरअसल दुर्ग में दो भाइयों के बीच लड़ाई हुई। छानबीन के दौरान छोटे भाई के पास से पांच लाख रूपये पाया गया।आरोपियों को पकड़ने पुलिस टीम ओडिसा गयी है। 

ड्रग्स माफियों का नाम उजागर करें

                आपने रायपुर में कहा कि यह जुआ खिलाता है..यह आदमी सट्टा और यह व्यक्ति ड्रग्स के कारोबार से जुड़ा है। जुआ सट्टा का नाम तो सामने आ गया। ड्रग्स वाले का नाम कब सामने आएगा। साहू  ने कहा..कि हम सार्वजनिक रूप से नाम नहीं बताते..अधिकारियों को नाम  बताया गया है। कार्रवाई हो रही है। जुआ सट्टा कारोबारियों का तार दुबई से जुड़ा पाया गया है। जल्द ही ड्रग्स कारोबारियों का नाम भी सामने आ जाएगा।

बेरोजगारी सबसे कम..फिर आवेदन इतना क्यों

                प्रदेश में सबसे कम बेरोजगारी का दावा किया जा रहा है। पीएसपी में दो लाख..टीईटी में पांच लाख आवेदन आए है। सवाल उठता है कि आखिर आंकड़ा सही है या आवेदन। गृहमंत्री ने बताया कि दोनो सही है। आवेदन पढ़े लिखों का आंकड़ा है। कम पढ़े लिखों को रोजगार दिया गया है। जाहिर सी बात है कि बेरोजगारी में भारी कमी आयी है।गौठान से लेकर हर क्षेत्र में लोगों को कामधाम करने का अवसर मिला है।

  एक दिन भाजपा खत्म हो जाएगी भाजपा की संस्कृति

                      केन्द्रीय मंत्री फग्गन सिंह ने कहा है कि कांग्रेसियों के लिए भाजपा के दरवाजे खुले है। प्रदेश सरकार के मंत्री ने कहा कि यह बात सही है। एक दिन ऐसा होगा कि भाजपा की संस्कृति ही खत्म हो जाएगी। भाजपा का नाम भी बदल जाएगा। क्योंकि भाजपा में कांग्रेसी चेहरा ही होंगे। गृहमंत्री नरे बताया कि केन्द्रीय एजेंसियों का इस्तेमाल किया जा रहा है। डर धझका कर लोगों को भाजपा प्रवेश दिलाया जा रहा है।

फग्गन के बयान पर किया आश्चर्य

               फग्गन सिंह कुलस्ते का बयान है कि हमें नहीं मालूम कि छत्तीसगढ़ में यात्री गाड़ियां बन्द है। ताम्रध्वज साहू ने आश्चर्य जाहिर करते हुए कहा कि इससे समझा जा सकता है कि केन्द्र सरकार का प्रबंधन कैसा है। रोज गाड़िया चलने की बात होती है। रोज बन्द कर दिया जाता है। लोग परेशान हैं। गाड़ियों को लेकर आंदोलन किया जा रहा है। बावजूद इसके विपरीत परिस्थियों में प्रदेश की सरकार अपनी जनता के हितों को लेकर लगातार काम कर रही है। समस्याओं का योनजाओं के माध्यम से निराकरम किया जा रहा है।

मेडिकल घोटाला की होगी जांच

                 2014-17 के बीच पुलिस अधीक्षक कार्यालय में मेडिकल घोटाला का मामला सामने आया। आज तक जांच नहीं हुई। पीएचक्यूं के आदेश के बाद भी जांच नहीं हुई। क्या जांच कराएंगे। गृहमंत्री ने कहा कि निश्चित रूप से जांच कराएंगे। मामला पहली बार सामने आया है। जानकारी के बाद जांच का आदेश देंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *