मलेरिया पर हुआ मंथन..बैठक में पहुंची रेणु जोगी

11/4/2001 9:06 PMबिलासपुर—जिले के मलेरिया के लिए सेंसेटिव गौरेला,पेंड्रा मरवाही इलाकों में आनेवाले दिनों में मलेरिया पर काबू पाया जा सकेगा जिससे मलेरिया से अकाल मृत्यु दर में बहुत हद तक कमी आ सकेगी। गुरूवार को सिम्स मेडिकल कालेज में कम्यूनिटी मेडिसिन विभाग के डाक्टरों ने मलेरिया रिसर्च से संंबंधित एक महत्वपूर्ण बैठक कर इस बात की जानकारी दी।  इस अवसर पर कोटा विधायक डाक्टर रेणु जोगी भी मौजूद थीं।
                                           रेणु जोगी ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि आनेवाले दिनों में शहर से लगे ग्राम सेंदरी में प्रस्तावित 5 एकड़ भूमि पर एक रिसर्च सेंटर खोला जाएगा जिसमें तकरीबन डेढ़ साल के रिसर्च के बाद मलेरिया पर रोकथाम के लिए पहल किया जाएगा। मालूम हो कि जिले के कोटा और मरवाही विधानसभा क्षेत्रों में बरसात के दिनों में मलेरिया की भयावह स्थिति बन जाती है और सैकड़ों की तादात में लोग काल के गाल में समा जाते हैं। लिहाजा सिम्स के कम्यूनिटी विभाग के डाक्टर आनेवाले दिनों में रिसर्च वर्क कर संवेदनशील क्षेत्रों में मलेरिया पर अगर रोकथाम कर पाते हैं तो ये अपनेआप में एक बड़ी उपलब्धी होगी..

Comments

  1. By vishal kumar jha

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.