पूर्व सीएम के खिलाफ थाने में शिकायत

IMG-20160803-WA0366बिलासपुर– भारतीय जनता युवा मोर्चा नेता सुशांंत शुक्ला ने पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी,मरवाही विधायक अमित जोगी, छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस नेता धरमजीत सिंह,अनिल टाह और शहजादी कुरैशी के खिलाफ मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंंह के व्यक्तित्व को हानि पहुंचाने का आरोप लगाया है। सुशांंत शुक्ला ने सिविल लाइन थाना पहुंचकर उक्त नेताओं के खिलाफ लिखित शिकायत में आईपीसी की धारा 469 के तहत अपराध पंजीबद्ध करने की मांग की है।

                          महाराष्ट्र भाजयुमों प्रभारी सुशांत ने बताया कि दो अगस्त को जोगी कांग्रेस के नेता और मरवाही विधायक अमित जोगी ने अपने साथियों के साथ डमी  नोट का वितरण किया।  नोट में मुख्यमंत्री के फोटों के साथ एक लाख करोड़ रूपए लिखा गया है। इसके अलावा छत्तीसगढ़ सरकार को भ्रष्ट सरकार भी होना बताया गया है। शुक्ला के अनुसार अमित जोगी के इस प्रकार की कार्रवाई से मुख्यमंत्री के ख्याति को नुकसान पहुंचा है।

                                    सुशांत ने बताया कि ऐसे लोगों पर भारतीय पीनल कोड की धारा 469 मामला बनता है। शुक्ला के अनुसार मुख्यमंत्री प्रदेश के ख्यातिलब्ध व्यक्ति और प्रथम लोकसेवक हैं। उन्हें जोगी और उनकी पार्टी ने जानबूझकर निशाना बनाया है। झूठा आरोप लगाकर उनके मान सम्मान को चोट पहुंचाया है।

                         आईपीसी की धारा 469 के अनुसार किसी ख्यातिलब्ध व्यक्ति को कोई जानबूझकर हानि पहुंचाने या कूट रचना का प्रयास करता है ऐसे व्यक्ति के खिलाफ खिलाफ कार्रवाई की जा सकती है। यह जानते हुए भी कि इस प्रकार के काम से उस व्यक्ति के मान प्रतिष्ठा को ठेस पहुंचता है। अपहानि के श्रेणी में माना जाएगा। अमित जोगी और अजीत जोगी समेत अन्य लोगों ने मुख्यमंत्री के मान सम्मान को ठेस पहुंचाया है। इसलिए इनके खिलाफ 469 के तहत कार्रवाई की जरूरत है।

                     सुशांत के अनुसार जोगी के इस प्रकार के आयोजन से मुख्यमंत्री के मान सम्मान को ठेस पहुंची है।  आज भी नेहरू चौक पर छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस जोगी के आयोजन में मुख्यमंत्री के मान सम्मान पर चोट किया गया है। यह जानते हुए भी वह प्रदेश के मुख्यमंत्री और लोकसेवक हैं। बावजूद इसके उन पर बेवजह मौखिक और पोस्टरबाजी के जरिए अनर्गल आरोप लगाए गए हैं। सुशांत ने बताया कि आज युवा भाजपा नेताओं ने सिविल लाइन पहुंचकर थाना प्रभारी से अजीत जोगी, अमित जोगी,धरमजीत सिंह,अनिल टाह और शहजादी कुरैशी के खिलाफ आईपीसी की धारा 469 के तहत कार्रवाई की मांग की है।साथ ही नेहरू चौक से बिना देरी किए आरोपों के  दस्तावेजों को जब्त करने किए जाने का निवेदन किया है।

                                        युवा नेता ने बताया कि 469 के तहत आरोपियों को तीन साल की सजा या जुर्माना का प्रावधान है। यदि पुलिस कार्रवाई नहीं करती है तो भाजपा युवा मोर्चा सड़क पर उतर आंदोलन के लिए तैयार है।

 

loading...

Comments

  1. By Raja zankyani

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...