स्टंट मंत्री का स्टंट बयान…जनता कांग्रेस का दावा…जोगी ने उठाया साहसिक कदम

jogi_june_14बिलासपुरा—जनता कांग्रेस जोगी ने प्रभारी मंत्री अजय चंद्राकर के बयान की निंदा की है। जनता कांग्रेस नेताओं ने कहा कि वादाखिलाफी करने वाले नेताओं के पास स्टंट जैसा ही उत्तर होता है। जनता काँग्रेस के नेताओं नेताओं के अनुसार मंन्त्री ने स्टंट वाला बयान आत्मग्लानी के कारण दी है।

             एक दिन पहले पत्रकार वार्ता में अजय चन्द्राकर ने कहा कि जोगी का कोर्ट में संकल्प शपथ पत्र केवल स्टंट है। जनता कांग्रेस नेताओं ने चन्द्राकर के बयान को आड़े हांथो लेते हुए कहा कि यदि दम है तो मंत्री शपथ पत्र देकर दिखाएं।

              जनता कांग्रेस प्रवक्ता विक्रांत ने बताया कि भाजपा सरकार की वादा खिलाफी से जनता का विश्वास टूटा है। जोगी ने जनता के विश्वास को बनाए रखने के लिए शपथ पत्र दिया है। प्रदेश की भोली भाली जनता राजनीतिक पार्टियों के लोक लुभावन घोषणा पत्रों को पढ़कर वोट करती है। लेकिन सरकार बनते ही घोषणा पत्र को भुला दिया जाता है। जोगी ने कोर्ट में शपथपत्र देकर विश्वास दिलाया है कि जनता कांग्रेस की सरकार बनते ही संकल्प पत्र में किए गए वादों को प्राथमिकता के आधार पर बिना देरी पूरा किया जाएगा।

            विक्रांत ने कहा कि यदि हिम्मत है तो भाजपा के नेता कोर्ट में संकल्प पत्र को शपथ पत्र बनाकर पेश करें। वादा पूरा नहीं होने पर कानूनी कार्रवाई होगी। लेकिन जनता कांग्रेस प्रमुख ने ऐसा किया है। शपथ पत्र देने के बाद उन्होने कहा है कि राजनीति में जनता को सिर्फ वोट देने का ही नहीं बल्कि नेताओं से वादा पूरा करवाने का भी अधिकार है। विक्रांत ने बताया कि हिंदुस्तान की राजनीति में ऐसा पहली बार हुआ है कि संकल्प पत्र को किसी पार्टी ने कोर्ट में शपथ पत्र के रूप में रखा।
विक्रान्त के अनुसा्र 21 जून से शपथ पत्र को जन जन पहुंचाया जाएगा। प्रदेश की महिलाओं, युवा और किसानों को शपथ की कापियां दी जाएंगी।  अजय चंद्राकर के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए विक्रांत ने कहा कि राज्य में शौचालय चोरी हो रहा हैं…मंत्री को खबर नहीं है। ओडीएफ में घोटाला हुआ है…पत्रकारों से जानकारी मिलती है….फिर नोट कराने का नाटक करते हैं। सीवरेज से जनता त्राहि त्राहि कर रही है…सालों से लटके मास्टर प्लान ने जिले के विकास पर अंकुश लगा दिया है। लेकिन मंत्री के पास इसका कोई जवाब नहीं है। इसलिए उनसे क्या उम्मीद रखें कि…शपथ के मायने क्या होते हैं।

 

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...