UFBU का 6 प्रतिशत वेतनबृद्धि लेने से इंकार..कहा..मर्जर के खिलाफ होगा उग्र आंदोलन…बताया अन्याय बर्दास्त नहीं

बिलासपुर— यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक एम्पलाईज समन्वयक ललित अग्रवाल ने बताया कि भारतीय बैंक संघ यानि IBA और यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक एम्प्लाईज के बीच शनिवार को बैठक हुई। मुम्बई में आयोजित बैठक के दौरान 11 वे वेतन समझौते को लेकर चर्चा हुई। यूएफबीयू पदाधिकारियों ने भारतीय बैंक संघ से पिछली बैठक में 6 प्रतिशत बढ़ोत्तरी के प्रस्ताव में संशोधन के अलावा अन्य बिन्दुओं पर खुलकर चर्चा की।
           मुम्बई में आयोजित बैठक में यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक एम्प्लाईज के 9 घटक संघो के प्रतिनिधि शामिल हुए। वार्ता में  यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक एम्प्लाईज ने भारतीय बैंक संघ से पिछली बैठक में वेतन में 6% बढ़ोतरी के प्रस्ताव में संशोधित की मांग की। इसके अलावा नया प्रस्ताव रखने की बात कही। यद्यपि भारतीय बैंक संघ प्रस्तावित वृद्धि के अतिरिक्त बैंकों के कार्य निष्पादन के आधार  पर परिचालन लाभ और निष्पादित आस्तियों की वसूली को ध्यान में रखते हुए बैंक-दर-बैंक वृद्धि का प्रस्ताव किया।
         यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक एम्प्लाईज आईबीए के प्रस्ताव को खारिज कर दिया। साथ ही बैंक कर्मचारी संगठन ने आईबीए के सामने कुल वेतनवृद्धि की मांग को फिर से दुहराया। इसके अलावा मुद्दों पर वार्ता का दौर सकारात्मक परिणाम तक जारी रखने को कहा।
               यूएपबीयू के समन्वय ललित अग्रवाल ने बताया कि सरकार के बैंक मर्जर निर्णय के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया जाएगा। यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक एम्प्लाईज के तत्वावधान में 9 अक्टूबर 2018 को देश भर में राज्यों की राजधानी और अन्य शहरों में सरकार के निर्णय का पुरजोर विरोध किया जाएगा। यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक एम्प्लाईज के घटक संघो की 14 अक्टूबर को जरूरी बैठक होगी। बैठक में भविष्य की रणनीति पर विचार-विमर्श कर जूरूरी निर्णय लिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *