सायबर अपराध कार्यशाला में विशेषज्ञों ने दिए टिप्स…IG और SP ने किया संबोधित…तथ्यों पर डाला प्रकाश

  बिलासपुर—  जलसंसाधन विभाग कैम्पस स्थित प्रार्थना भवन में सायबर अपराध पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला के दौरान पुलिस विभाग के कर्मचारियों को अपराध की तफ्तीश को लेकर आलाधिकारियों ने टिप्स दिए। अपराध और अपराधियों को किस तरह ट्रेस किया जाए आलाधिकारियों ने विस्तार से जानकारी भी दी।
                जलसंसाधन विभाग कैम्पस स्थित प्रार्थना भवन में बिलासपुर पुलिस प्रशासन ने साइबर अपराध को लेकर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया। कार्यशाला को बिलासपुर पुलिस महानिरीक्षक आईपीएस प्रदीप गुप्ता और और वरिष्ठ पुलिस कप्तान आईपीएस आरिफ शेख ने संबोधित किया। इस दौरान दोनों आलाधिकारियों ने कार्यशाला में मौजूद पुलिस अधिकारियों को साइबर अपराध से जुड़ी एक एक गतिविधियों की जानकारी से अवगत कराया।
           आईजी प्रदीप गुप्ता और एसपी आरिफ शेख ने कार्यशाला के दौरान बताया कि समय के साथ अपराध और अपराधियों में काफी बदलाव देखा जा रहा है। अपराधी समय के साथ हाईटेक हो रहे हैं। अपराधी अपराध के नए नए तरीके आजमा रहे हैं। इंटरनेट की दुनिया में अपराध का तौर तरीका बदल गया है। पुलिस के सामने लगातार चुनौतियां हैं। समाज को विश्वास में लेते हुए हमें अपराध और अपराधियों पर अंकुश लगाना है। जब हम ज्यादा से ज्याद जवाबदार बनते है तो अपराधियों की कमर टूटती है। लेकिन इसके लिए हमें हमेशा सतर्क रहने की जरूरत है। पुलिस अधिकारियों का पीठ थपथपाते हुए आईजी और एसपी ने कहा कि हम पर जिम्मेदारी है। हमें जिम्मेदारियों का निर्वहन करने भी आता है। और हमेशा ऐसा करते भी हैं। क्योंकि हमारी जवाबदेही भी है।
              कार्यशाला में दोनो आईपीएस अधिकारियों ने सिलसिलेवार होेने वाली घटनाओं की जानकारी दी। निदान के उपाय भी बताए। सतर्कता के टिप्स भी दिए। कार्यशाला में बिलासपुर रेंज के करीब 65 प्रतिभागी शामिल हुए। इस दौरान सायबर क्राइम के विभिन्न पहलुओं पर तथ्यात्मक जानकारी सायबर क्राइम के विशेषज्ञों ने दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *