शिक्षाकर्मियों के मुद्दों पर संघ की मांग – संविलयन , क्रमोन्नति, पदोन्नति, अनुकम्पा नियुक्ति आदि का जनवरी से हो क्रियान्वयन

संविलियन,शिक्षाकर्मियों,chhattisgarh,pran,cps,ddoरायपुर।22 दिसंबर को रीता सांडिल्य सचिव सामान्य प्रशासन विभाग के हस्ताक्षर से जारी कार्ययोजना में 02 वर्ष पूर्ण करने पर संविलियन का विषय को शामिल किया गया है,परन्तु घोषणा पत्र में उल्लेखित, क्रमोन्नति, पदोन्नति, पेंशन, अनुकम्पा नियुक्ति को शामिल नही किया गया।छत्तीसगढ़ पंचायत नगरीय निकाय शिक्षक संघ के प्रदेशाध्यक्ष संजय शर्मा एवं प्रदेश उपाध्यक्ष हरेंद्र सिंह, देवनाथ साहू, बसंत चतुर्वेदी, प्रवीण श्रीवास्तव, विनोद गुप्ता, प्रांतीय सचिव मनोज सनाढ्य, प्रांतीय कोषाध्यक्ष शैलेन्द्र पारीक, प्रांतीय संयोजक सुधीर प्रधान,प्रदेश मीडिया प्रभारी विवेक दुबे ने कार्यवाही विवरण में 02 वर्ष पूर्ण करने पर संविलियन के विषय को शामिल किए जाने पर मुख्यमन्त्री का धन्यवाद व्यक्त करते हुए कहा है कि शिक्षाकर्मियो के लिए घोषणा पत्र में उल्लेखित विषय क्रमोन्नति, पदोन्नति, पेंशन,अनुकम्पा नियुक्ति को कार्ययोजना में शामिल करते हुए जनवरी माह से क्रियान्वयन प्रारंभ किया जावे।(cgwall.com के WhatsApp ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करे)

संविलियन– 2 वर्ष पूर्ण कर चुके समस्त शिक्षाकर्मियो का जनवरी माह से संविलियन की प्रक्रिया प्रारंभ किया जावे।

क्रमोन्नति– पदोन्नति से वंचित समस्त वर्ग के शिक्षाकर्मियो/ शिक्षकों के प्रथम नियुक्ति तिथि को आधार मानते हुए वेतन निर्धारित कर जनवरी माह से क्रमोन्नति वेतनमान का लाभ देने प्रक्रिया प्रारम्भ किया जावे।

पदोन्नति– प्राचार्य, प्रधान पाठक के साथ सभी स्तर के पदों पर जनवरी माह से समयबद्ध पदोन्नति की प्रक्रिया प्रारंभ किया जावे।

पुरानी पेंशन – पुरानी पेंशन बहाली के लिए जनवरी माह में ही नियम प्रावधान बनाकर आवश्यक कार्यवाही प्रारंभ किया जावे।

वेतन विसंगति – वेतन विसंगति स्पस्ट होने के कारण एक नोडल अधिकारी नियुक्त कर जनवरी माह से ही प्रकरण निराकृत कर भुगतान की प्रक्रिया प्रारंभ किया जावे।

अनुकम्पा नियुक्ति –पंचायत/नगरीय निकाय में लम्बित अनुकम्पा नियुक्ति हेतु शर्ते शिथिल कर जनवरी माह से अनुकम्पा नियुक्ति प्रक्रिया प्रारंभ कर शीघ्र आदेश जारी किया जावे।प्रदेश के शिक्षा कर्मी व कर्मचारियो ने कांग्रेस के घोषणा पत्र में भरोसा किया है, अतः घोषणा पत्र में प्रमुखता से शामिल विषय को जनवरी माह में निराकृत किया जावे।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...