जोगी का भाजपा पर चोट…आरएसएस के हाथ पार्टी की रिमोट..अंग्रेजों से हासिल किया रूल एण्ड डिवाइड फार्मूला

रायपुर—जकांछ राष्ट्रीय अध्यक्ष अजीत जोगी ने भाजपा को अधिकार विहीन पार्टी बताया है। उन्होने कहा कि चुनाव कोई भी हो भाजपा की प्रचार-प्रसार की मुहिम पूरी तरह से भावनात्मक रहता है। भाजपा और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ देश की जनता की वर्ग विशेष की धार्मिक भावनाओ को उभारकर वोट की स्वार्थ सिद्ध करती है। आमतौर पर बीजेपी भावना जगाओं पार्टी के रूप में पहचानी जाती है।
                  अजीत ने प्रेस नोट जारी कर बताया कि आम चर्चा में भाजपा और संघ का इतिहास अंग्रेजो की तर्ज पर दो वर्ग में फुट डालो और राज करो की नीति पर आधारित है। भाजपा को अंग्रेजो की उत्तराधिकारी संस्था के रूप में जाना जाता है। डिवाईड एण्ड रूल की सोच को सशक्त करने की दिशा में ही भाजपा के नेताओं और जनप्रतिनिधियों की तरफ से अभद्र, असंसदीय और अमर्यादित भाषा, स्तरहीन बयानों का सहारा लिया जाता है। अमर्यादित बयानो को रोकने का भाजपा की तरफ से कोई प्रयास नही किया जाता है। इस प्रकार के बयानो के लिए भाजपा की मौन स्वीकृति को उजागर करता है।
                                           जोगी ने कहा है कि भाजपा आधार विहीन पार्टी है। उसकी समस्त शक्ति आरएसएस के अधीन है। संघ जैसा चाहती है उसी का पालन भाजपा को अक्षरशः करना होता है। सिद्ध करता है कि भाजपा का अपना स्वयं का कुछ भी अस्तित्व नही है। भाजपा वही करती है जो संघ चाहता है। भाजपा के सभी चुनावो में पार्टी के प्रत्याशियों का चयन संघ ही करती है। भाजपा केवल घोषणा का ही कार्य करती है। भाजपा का रिमोट संघ के पास रहता है। जैसा की प्रदेश के दसों सांसदो को संघ के आदेश पर ही टिकट से वंचित कर जीतने के अयोग्य घोषित कर दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *