ICC World Cup शुरू होने से पहले ही भारत के नाम जुड़ गई एक बड़ी उपलब्‍धि


Gs Lakshmi, First Female Referee, Icc, Icc World Cup 2019,दुबई-
ICC World Cup शुरू होने में अब चंद दिन ही बाकी रह गए हैं. इससे पहले ही भारत (India) के नाम एक सुनहरा रिकॉर्ड दर्ज हो गया है. घरेलू महिला क्रिकेट (Women Cricket) में 2008-09 से मैच रेफरी (match referee) की भूमिका निभा रही 51 साल की जीएस लक्ष्मी (gs lakshmi) आईसीसी मैच रेफरी के अंतरराष्ट्रीय पैनल में शामिल होने वाली पहली महिला बन गई हैं और वह तुरंत प्रभाव से अंतरराष्ट्रीय मैचों में अपनी सेवाएं दे सकती हैं. लक्ष्मी अब तक महिलाओं के तीन वनडे और तीन टी-20 अंतरराष्ट्रीय में मैच रेफरी रह चुकी हैं. इस महीने के शुरू में क्लेरी पोलोसाक पुरुषों के वनडे अंतरराष्ट्रीय मैच में अंपायरिंग करने वाली पहली महिला बनी थीं.सीजीवालडॉटकॉम के व्हाट्सएप्प ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करे

 आईसीसी के बयान के अनुसार लक्ष्मी ने कहा, ‘आईसीसी के अंतरराष्ट्रीय पैनल में चुना जाना मेरे लिए बहुत बड़ा सम्मान है क्योंकि इससे मेरे लिए नए दरवाजे खुलेंगे. भारत में एक क्रिकेटर और मैच रेफरी के रूप में मेरा लंबा करियर रहा है. उम्मीद है कि मैं एक खिलाड़ी और मैच अधिकारी के रूप में अपने अनुभव का अंतरराष्ट्रीय सर्किट पर अच्छा उपयोग करूंगी.’ ऑस्ट्रेलिया की इलोइस शेरिडन आईसीसी के अंपायरों के ‘डेवलपमेंट पैनल’ में हमवतन पोलोसाक के साथ जुड़ेंगी. इस तरह से इस पैनल में महिलाओं की संख्या सात हो गई है.

यह भी पढे-10वी-12वी के बच्चों की हर सप्ताह होगी यूनिट टेस्ट,कलेक्टर ने दिए कुछ स्कूलों में कैम्प बंद मिलने पर प्राचार्यों को नोटिस जारी करने के निर्देश

लॉरेन एगेनबाग, किम कॉटन, शिवानी मिश्रा, सू रेडफर्न, मैरी वाल्ड्रान और जैकलिन विलियम्स इस पैनल में शामिल अन्य महिला अधिकारी हैं. इस पैनल में शामिल होने वाली पहली महिला अंपायर कैथी क्रॉस थीं, जिन्होंने पिछले साल संन्यास ले लिया था.

यह भी पढे-जब निरीक्षण के लिए कलेक्टर पहुंचे अस्पताल,गैरहाज़िर दो डॉक्टर सहित 14 कर्मचारियों को नोटिस

आईसीसी के अंपायरों और रेफरी विभाग के सीनियर मैनेजर एड्रियन ग्रिफिथ ने कहा, ‘हम लक्ष्मी और इलोइस का अपने पैनल में स्वागत करते हैं जो कि महिला अधिकारियों को बढ़ावा देने की हमारी प्रतिबद्धता की तरफ बढ़ाया गया महत्वपूर्ण कदम है. उनकी प्रगति देखकर अच्छा लगता है और मुझे पूरा विश्वास है कि अधिक से अधिक महिलाएं उनका अनुसरण करेंगी.’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *