जब पुलिस कप्तान ने कहा….ब्लैक स्पॉट की करें पहचान…लायसेंस करें निरस्त…आईजी ने बोला..चलाएंगे अभियान

बिलासपुर— पुलिस महानिरीक्षक बिलासपुर रेंज प्रदीप गुप्ता और पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल ने बिलासागुड़ी में थाना प्रभारियों और राजपत्रित अधिकारियों के साथ की। बैठक में पुलिस पुलिस कप्तान ने लंबित अपराधों के बारे में गंभीरता से विचार विमर्श किया। साथ ही जागरूकता अभियान चलाकर लोगों तक बेहतर पुलिसिंग की जानकारी देने को कहा।
                        बिलासागुड़ी में रेंज महानिरीक्षक प्रदीप गुप्ता और पुलिस कप्तान प्रशांत अग्रवाल ने जिले के राजपत्रित पुलिस अधिकारियों और थाना प्रभारियों के साथ बैठक की। इस दौरान दोनों आलाधिकारियों ने विभिन्न थानो में लंबित प्रकरण को लेकर गंभीरता के साथ विचार विमर्श किया। पुलिस कप्तान ने बैठक  में मौजूद सभी अधिकारियों को निर्देश दिया कि लंबित प्रकरणों का जल्द से जल्द निकारण किया जाए। गंभीर अपराधों पर लंबित चालान, मर्ग, जिला बल में अनुशासन को लेकर जरूरी दिशा निर्देश दिया। सजा और इनाम ,मकान किराएदारों के सत्यापन को लेकर स्प्ष्ट निर्देश दिए।
            पुलिस कप्तान ने कहा कि मिशन सिक्योर सिटी, महिला और  बच्चों संबंधी अपराधों में त्वरित अपराध पंजीबद्घ करें। सामुदायिक पुलिसिंग एटीएम ठगी चिट फण्ड समेत अनेक अपराधों पर लगाम लगाने रणनीति के साथ उचित कदम उठाए जाएं। जागरूकता अभियान चलाकर लोगों को अंजोर रथ के बारे में विस्तार से जानकारी देने को कहा।
                    बैठक में  वरिष्ठ कार्यालय विशेषकर पुलिस महानिदेशक और महानिरीक्षक कार्यालय से मिले निर्देशों को गंभीरता से पालन करने को कहा गया।   मर्ग और अपराध को लेकर मिली शिकायतों पर पुलिस कप्तान ने लापरवाही करने वाले थाना प्रभारियों को जमकर फटकारा।  जिले में हो सड़क दुर्घटनाओं को लेकर चिंता जाहिर की। उन्होने निर्देश दिया कि ब्लैक स्पॉट का चयन कर उपाय के जरूरी पाइंट बनाए जाएं। शराब पीकर गाड़ी चलाने वालों और दुर्घटना होने पर चालकों के लाइसेंस निलम्बन कार्यवाही करें।
                 बैठक में पुलिस महानिरीक्षक प्रदीप गुप्ता ने मिशन सिक्योर सिटी की महत्ता को बारे में जामकरी दी। उन्होने कहा कि इसके लिए विशेष अभियान चलाया जाए। विवेचना स्तर को बेहतर किया जाए। विवेचना में राजपत्रित अधिकारियों को गंभीरता से समीक्षा करने को कहा। स्टाफ को गाइड और  व्यावसायिक दक्षता, इमेज बिल्डिंग करने की बात कही।  बैठक में जिले के थाना चौकी प्रभारियों के अतिरिक्त अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण यातायात गौरेला IUCAW, सीएसपी सिविल लाइंस कोतवाली अनुविभागीय अधिकारी कोटा के कमोबेश सभी पुलिस अधिकारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *