कोयला सचिव की समीक्षा बैठक..जैन ने की SECL कार्य संस्कृति की तारीफ.. बताया..बताया कम्पनी बनाएगी रिकार्ड

बिलासपुर—कोयला सचिव आईएएस अनिल कुमार जैन निदेशक तकनीकी मिनिस्ट्री ऑफ कोल  पीयूष कुमार और कोलइण्डिया के निदेशक तकनीकी विनय दयाल के साथ बिलासपुर एसईसीएल प्रवास पर पहुॅंचे।  कोयला सचिव जैन ने गेवरा माइन का निरीक्षण किया। इस दौरान जैन के साथ एसईसीएल के सीएमडी ए.पी. पण्डा, निदेशक (कार्मिक) डाॅ. आर.एस. झा, मुख्य सतर्कता अधिकारी बी.पी. शर्मा, निदेशक तकनीकी (संचालन) आर.के. निगम, निदेशक तकनीकी (योजना/परियोजना) मनोज कुमार प्रसाद, निदेशक (वित्त) एस.एम. चौधरी विशेष से मौजूद थे।

          जैन ने आलाधिकारियों के साथ गेवरा माईन का  निरीक्षण किया। निरीक्षण के बाद जैन न पौधारोपण भी किया। डम्पर, डोजर सिस्टम, कोयला सेम्पल टेस्टिंग लैब का निरीक्षण किया। गेवरा माईन में निरीक्षण के समय एसईसीएल शीर्ष प्रबंधन के साथ ही गेवरा महाप्रबंधक एस.के. पाल भी मौजूद थे। एसईसीएल शीर्ष प्रबंधन और महाप्रबंधक दीपका बी.के. चंदोरा के साथ दीपका माईन का निरीक्षण दीपका व्यूव प्वाईंट से करने के बाद कोयला सचिव अनिल कुमार जैन ने गेवरा हाउस में एसईसीएल शीर्ष प्रबंधन और क्षेत्रीय महाप्रबंधकों के साथ समीक्षा बैठक की। 

                                  कोयला सचिव अनिल कुमार जैन ने एसईसीएल की उत्कृष्ठ कार्यसंस्कृति की जमकर तारीफ की। उम्मीद जताया कि हमेशा की तरह इस बार भी एसईसीएल कोलइण्डिया की सर्वाधिक कोयला उत्पादक कम्पनी बनी रहेगी। कम्पनी की दक्षता और उत्कृष्टता कोयला उद्योग में अनुकरणीय उदाहरण बनकर प्रस्तुत होंगे। कोयला सचिव ने निरीक्षण और बैठक के दौरान कोयला उत्पादन और उत्पादकता बढ़ाने के लिए जरूरी सुझाव भी दिए। एसईसीएल शीर्ष प्रबंधन ने समुचित कार्यवाही करने का आश्वासन भी दिया।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...