ग्राम पंचायत के तत्कालीन सचिव निलंबित,यह है मामला

बिलासपुर। जिले के बिल्हा विकासखण्ड के ग्राम पंचायत लखराम के तत्कालीन सचिव अनूप यादव को वित्तीय मामलों मे अनियमितता पाए जाने के कारण मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत बिलासपुर द्वारा निलंबित कर दिया गया है। ग्राम पंचायत लखराम के तत्कालीन सचिव अनूप यादव के विरुद्ध वित्तीय अनियमितता की शिकायत की गयी थी।जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने छह सदस्यीय टीम गठित कर जांच के निर्देश दिए थे। जांच दल द्वारा जाँच की कार्यवाही पूर्ण कर प्रतिवेदन प्रस्तुत किया गया। जाँच रिपोर्ट में ग्राम पंचायत लखराम के तत्कालीन सचिव एवं वर्तमान में ग्राम पंचायत दर्रीघाट के सचिव श्री अनूप यादव वित्तीय अनियमितता के दोषी पाए गए।

जाँच रिपोर्ट में पाया गया कि उन्होंने कचरा शेड निर्माण के लिए तीन लाख रुपये खाते से निकाले थे लेकिन स्थल निरीक्षण में कोई कार्य नहीं हुआ था। जांच में पाया गया कि सचिव अनूप यादव ने बिजली बिल के नाम पर 13 लाख की राशि का आहरण कर उसका दुरुपयोग किया। इसी प्रकार क्वारन्टीन सेंटर की समुचित व्यवस्था करने के लिए सरपंच और सचिव द्वारा 55 हजार रुपये का नकद आहरण किया गया और जांच में पाया गया कि आहरित राशि रोकण पंजी में दर्ज नही की गयी थी। अनुप यादव को छत्तीसगढ़ पंचायत सेवा आचरण नियम 1998 का उल्लंघन करने के कारण निलंबित किया गया। निलम्बन अवधि में श्री अनूप यादव जनपद पंचायत कार्यालय मस्तूरी में कार्य करेंगे। निलंबन अवधि में अनूप यादव को नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ते की पात्रता होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *