मौसम में बदलाव, चलेगी शीतलहर,पड़ेगी ठंड, जानें पूर्वानुमान

रायपुर ।छत्तीसगढ़ में जल्द मौसम में बड़ा बदलाव दिखेगा। आने वाली ठंड नवंबर महीने के अंत तक देखने को मिल सकती है। हालांकि तीन चार दिनों तक रात के समय में न्यूनतम तापमान में कोई बदलाव नहीं होगा। नमी युक्त हवा के कारण बादलों के आवागमन जारी रहेंगे। सुबह सुबह धुंध और कोहरे की दस्तक दिखेगी।

पर्वतीय राज्यों में हो रही तेज बर्फबारी के कारण न्यूनतम तापमान में गिरावट देखी जा सकती है। बता दे कि शहर का न्यूनतम तापमान 14 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है। फिलहाल न्यूनतम तापमान में वृद्धि देखने को मिली है। मौसम विभाग ने कहा कि आने वाले 2 दिन तक मौसम में किसी प्रकार का बदलाव नहीं रहेगा। नमी युक्त हवा के कारण बादलों के आने के साथ ही सुबह कोहरा भी छाया रह सकता है।

सरगुजा संभाग में अच्छी ठंडहालांकि उत्तर भारत में बर्फबारी के कारण हवाई सर्द होने लगी है। अधिकतम और न्यूनतम तापमान ज्यादा अंतर नहीं है। प्रदेश के सरगुजा संभाग में अच्छी ठंड देखने को मिल रही है। छत्तीसगढ़ के कुछ अन्य जिलों की बात करें तो मैनपाट कोरिया पेंड्रा जैसे शहरों में शीतलहर से मौसम में कड़े बदलाव देखने को मिल रहे हैं। राजधानी रायपुर में न्यूनतम तापमान 15 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है।नारायणपुर में तापमान 10 डिग्री नीचेमौसम वैज्ञानिकों की मानें तो छत्तीसगढ़ के सीमावर्ती इलाके में तापमान में भारी गिरावट दर्ज की जाएगी। शीतलहर की स्थिति बन सकती है। बस्तर संभाग में कड़ाके की ठंड पड़ने का पूर्वानुमान जताया गया है। नारायणपुर में तापमान 10 डिग्री नीचे रिकॉर्ड किया गया है।मौसम प्रणालीमौसम पूर्वानुमान के मुताबिक दक्षिण पश्चिम बंगाल की खाड़ी के ऊपर एक डिप्रेशन तैयार हुआ था जो अब गहरी निम्न दबाव के क्षेत्र में बदल गया है। आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु में इसका असर दिखेगा। बारिश हो सकती है जबकि 25 नवंबर को एक बार फिर से बंगाल की खाड़ी में एक अन्य चक्रवातीय सिस्टम सक्रिय होगा। हालांकि छत्तीसगढ़ में इसका कोई असर नहीं दिखेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *