इंडिया वाल

Coronavirus In India: भारत में वेरिएंट BF-7 के अब तक 4 केस, विदेशों से आने वालों की रैंडम सैंपलिंग, जानिए क्या कदम उठा रही सरकार

Omicron BF.7 in India: कोरोना वायरस से दुनियाभर में जंग जारी है. इस बीच चीन में कोरोना के बढ़ते मामलों के लिए जिम्मेदार ओमिक्रोन के सब वेरिएंट बीएफ.7 (Omicron BF.7) और बीएफ.12 (BF.12) के मामले भारत में भी पाए जाने के बाद भय का माहौल बना हुआ है. केंद्र सरकार सतर्क हो गई है. देशभर के एयरपोर्ट पर इस वायरस के लिए विदेशी यात्रियों की रैंडम सैंपलिंग (Random Sampling) शुरू हो गई है. हालांकि, केंद्र सरकार ने यह भी कहा है कि इस वायरस से घबराने की कोई जरूरत नहीं है.

ओमिक्रोन के सब वेरिएंट बीएफ.7 (Omicron BF.7) और बीएफ.12 के मामले गुजरात (Gujarat) और ओडिशा में सामने आए थे. सरकार ने इसे लेकर कई खास दिशानिर्देश भी जारी किए हैं.केंद्रीय मंत्री मनसुख मंडाविया ने एक्सपर्ट और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ नए वेरिएंट को लेकर बैठक के बाद कहा है कि कोरोना अभी खत्म नहीं हुआ है. स्वास्थ्य मंत्री ने इस वेरिएंट को लेकर संबंधित विभागों को सतर्क रहने और निगरानी को मजबूत करने का निर्देश दिया हैं. उन्होंने कहा है कि सरकार किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार है.

केंद्र ने राज्यों से सभी कोविड पॉजिटिव मामलों के नमूने INSACOG जीनोम सीक्वेंसिंग लैब में भेजने को कहा है ताकि इसके संक्रमण के खतरे का अंदाजा लगाया जा सका. देश में INSACOG कोविड-19 के अलग-अलग वेरिएंट का अध्ययन और निगरानी करने के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय के तहत एक मंच है. इसे सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के साथ जोड़ा गया है.

विदेशों से आने वालों की रैंडम सैंपलिंग

भाजपा प्रदेश प्रभारी डी पुरंदेश्वरी 3 दिन के छतीसगढ़ प्रवास पर,19 को जगदलपुर में,देखे शेड्यूल

सरकार ने संक्रमण को रोकने के लिए विदेश से आने वाले यात्रियों को लेकर खास दिशा-निर्देश दिए हैं. देश भर के एयरपोर्ट्स पर विदेश से आने वाले यात्रियों की रैंडम सैंपलिंग शुरू हो गई है. केंद्र सरकार ने ओमिक्रोन के नए वेरिएंट से संक्रमण को लेकर लोगों को सलाह देते हुए कहा है कि इससे घबराने की कोई बात नहीं है. लोगों को भीड़-भाड़ वाले इलाकों में मास्क लगाने की सलाह दी गई है. 

मास्क इस्तेमाल करने की सलाह

भारत में इस वक्त सार्वजनिक समारोहों या पर्यटन स्थलों के लिए कोई कोविड-19 प्रोटोकॉल लागू नहीं है. जून में केंद्र की एडवाइजरी के बाद किसी भी राज्य में मास्क अनिवार्य नहीं है. एडवाइजरी में राज्यों को मास्क के इस्तेमाल पर निर्णय लेने के लिए कहा गया था. फिलहाल एयरपोर्ट पर भी मास्क अनिवार्य नहीं है, लेकिन नवंबर में भेजी एडवाइजरी में सोशल डिस्टेंसिंग को बनाए रखने की सलाह दी गई थी. 

गुजरात और ओडिशा से आए मामले

कोविड-19 (Covid-19) पर नेशनल टास्क फोर्स के प्रमुख और नीति आयोग के सदस्य वीके पॉल ने कहा है कि घबराने की कोई जरूरत नहीं है और पर्याप्त परीक्षण किए जा रहे हैं. बता दें कि गुजरात में अक्टूबर-नवंबर में ओमिक्रोन के बीएफ.7 और बीएफ.12 वेरिएंट से संक्रमित तीन मरीज सामने आए थे. जबकि ओडिशा से एक मामला सामने आया था. मरीजों का होम आइसोलेशन में इलाज किया गया और अब वे पूरी तरह से ठीक हो गए हैं.

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS