सामने आयी पटवारी संघ की गुटबाजी.. आधा प्रदेश हड़ताल से लौटा..कई जिलों में लौटने से इंकार..बनाया नया संगठन

बिलासपुर—-एक दिन पहले राजस्व मंत्री के आश्वासन मिलने के बाद राजस्व पटवारी संघ ने 14 दिनों तक धरना प्रदर्शन के बाद हड़ताल वापस लिया। हड़ताल वापस लेने से प्रदेश के आधा से अधिक जिलों ने नाराजगी जाहिर की है। की जिलों के पटवारियों ने एलान किया है कि जब तक मांग पूरी नहीं होती है। हड़ताल से कदम खींचने का सवाल ही नहीं है। जिसके चलते पटवारियों के संगठन में कई गुट बन गए है। मजेदार है कि सभी गुट अपने को मुख्य मानकर चल रहे है।

                 जानकारी देते चलें कि एक दिन पहले अश्वनी वर्मा की अगुवाई में राजस्व संघ के बैनर तले पटवारियों ने हड़ताल खत्म करने का एलान किया। इसके पहले राजस्व पटवारी संघ के पदाधिकारी कोरबा में 9 सूत्रीय मांग को लेकर राजस्व मंत्री जय सिंह अग्रवाल से मिले। उन्होने आश्वासन दिया कि पटवारियों की कुछ मांगों को वित्त विभाग के पास भेजा गया है। कुछ मांग को जल्द ही पूरा कर दिया जाएगा। इसके बावजूद यदि पटवारी हड़ताल से नहीं लौटते हैं तो सख्त कार्रवाई की जाएगी।

                      मंत्री के फरमान और आश्वसान के बाद राजस्व पटवारी संघ ने राजस्व मंत्री को एक पत्र सुपुर्द कर हड़ताल को वापस ले लिया। विश्वास जताया कि जल्द ही मांग को पूरा किया जाएगा। राजस्व पटवारी संघ के यकायक हड़ताल वापस लिए जाने के बाद प्रदेश के पटवारियों ने गहरी नाराजगी जाहिर की। खासकर छत्तीसगढ़ पटवारी संघ के नेताओं ने हड़ताल वापस लिए जाने का गहरा विरोध किया। पटवारियों के वाट्स ग्रुप में हड़ताल वापस लिए जाने के खिलाफ जमकर पोस्ट लिखा गया। 

                 एक दिन पहले तक कोरिया और बस्तर के पटवार संघ ने अलग संगठन बनाने का एलान किया।  साथ ही दावा किया कि राजस्व पटवारी संघ के फैसले के साथ प्रदेश के आधा से अधिक जिलों के पटवारियों में गहरा आक्रोश है। इसलिए हड़ताल अभी खत्म नहीं हुई है।

 पटवारियों ने कहां खोला मोर्चा..और वापस लिया हड़ताल

          जानकारी के अनुसार मंत्री के आश्वासन और राजस्व पटवारी संघ के एलान के बाद रायपुर, धमतरी,कवर्धा, रायगढ़, बालोद,बिलासपुर,कान्केर,महासमुंद,मुंगेली,अम्बिकापुर, बलरामपुर, बेमेतरा, राजनांदगांव, मौरेला,जांजगीर चांपा के पटवारियों ने हडताल खत्म कर दिया है।

                वहीं संघ के फैसले का विरोध करते हुए बस्तर, बलौदाबाज़ार,गरियाबंद,दुर्ग,जशपुर, सूरजपुर,दन्तेवाड़ा,जाजगीर चापा,कोंडागाँव,बीजापुर,सुकमा ,कोरबा,नारायणपुर ने मांग पूरी नही होने तक हड़ताल से कदम खीचने से साफ मना कर दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *