रामानुजगंज विधानसभा में भारतमाता के जयघोष के साथ पूर्व गृहमंत्री रामविचार नेताम ने निकली तिरंगा यात्रा

रामनुजगंज(पृथ्वीलाल केशरी)रामानुजगंज विधानसभा में छत्तीसगढ़ प्रदेश के पूर्व गृह मंत्री रामविचार नेताम के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी की तिरंगा यात्रा की शुरुआ आरागाही केरवाशिला कमलपुर से हाथों में तिरंगा भारत माता की जयघोष के साथ युवा देशभक्ति के रंग में रंगे नजर आए। इस अवसर पर श्री नेताम ने जनता से 13 से 15 अगस्त के बीच अपने घर पर तिरंगा फहराने की अपील की। पूर्व गृह मंत्री रामविचार नेताम ने शनिवार को रामानुजगंज विधानसभा में तिरंगा यात्रा का आयोजन किया। यात्रा की शुरुआत अरागाही से की गई जो पूरे क्षेत्र का भ्रमण करते हुए रामानुजगंज के चांदनी चौक पर स्थित भारत माता मंदिर में स्थापित मां भारत माता के प्रतिमा पर रामविचार नेताम ने उनके श्री चरणों पर पुष्प अर्पित करते हुए धूप दीप प्रज्वलित कर आरती की तत्पश्चात उपस्थित जनों को प्रसाद वितरण किया गया।

तिरंगा यात्रा के समापन कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पूर्व गृह मंत्री रामविचार नेताम ने कहा कि रामानुजगंज विधानसभा की सड़कों पर अद्भुत दृश्य दिखाई दिया। तिरंगा यात्रा में शामिल हर व्यक्ति देशभक्ति के रंग में रंगा हुआ दिखाई दिया और जोशो-खरोश से लगाए जा रहे भारतमाता के जयकारे यह आभास करा रहे थे कि हर व्यक्ति तिरंगे और भारतमाता के सम्मान को अक्षुण्ण रखने के लिए संकल्प ले रहा है। उन्होंने कहा कि हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत की विजय पताका सारी दुनिया में चहुंओर फहरा रही है।

प्रधानमंत्री के आह्वान पर आजादी के अमृत महोत्सव के अंतर्गत हर घर तिरंगा अभियान शुरू किया गया है। श्री नेताम ने कहा कि तिरंगा हमारा राष्ट्रीय गौरव है और हमारी इच्छाओं, आकांक्षाओं का प्रतीक है। इसी तिरंगे को हाथ में लेकर हमारे स्वतंत्रता संग्राम सेनानी और क्रांतिकारी अंग्रेजों से भिड़ गए थे। श्री नेताम ने कहा कि आइये, हम सब यह संकल्प लें और अपने आसपास के लोगों को भी यह संकल्प दिलाएं कि वे 13 से 15 अगस्त तक अपने घरों पर तिरंगा ध्वज जरूर फहराएंगे। क्योंकि आजादी के 75 वर्ष 15 अगस्त 2022 को पूरे हो रहे हैं। लेकिन यह आजादी यूं ही नहीं मिली है। हमारे स्वतंत्रता सेनानियों और क्रांतिकारियों ने आजादी के लिए अपना सर्वस्व न्यौछावर कर दिया। बाइक पर सवार युवा मोर्चा के सैकड़ों कार्यकर्ता यात्रा में शामिल हुए। तिरंगा यात्रा का विभिन्न स्थानों पर सामाजिक और धार्मिक संगठनों के द्वारा स्वागत किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *