साढ़े 17 लाख रूपयों की धोखाधड़ी..रूपया दो गुना करने आरोपियों ने किया खेल..दोनो आरोपी मुम्बई से गिरफ्तार

बिलासपुर— शेयर मार्केट में रूपया निवेश किए जाने को लेकर 17 लाख से अधिक रूपयों की धोखाधड़ी के दो आरोपियों को मुम्बई से गिरफ्तार किया गया है। मामले में शिकायत प्रतीक दामा ने सिटी कोतवाली थाना में दर्ज कराया था। दोनो आरोपियों को  आईपीसी की धारा 420,34 के तहत गिरफ्तारी के बाद न्यायालय के सामने पेश कर जेल दाखिल कराया गया है।
 
                    सिटी कोतवाली पुलिस के अनुसार  निमेश अशोक ठक्कर पिता स्व. अशोक ठक्कर उम्र 30 साल । 02. रौनक ठक्कर पिता स्व. अशोक ठक्कर उम्र 29 साल पता मकान नंबर 09 न्यू माताजी बिल्डींग प्रथम फलोर मुलूंड थाना मुलुंड मुम्बई महाराष्ट् 
 
               सिटी कोतवाली पुलिस के अनुसार ने पीड़ित प्रतीक दामा ने थाना पहुंचकर बताया कि चार पांच साल पहले मुम्बई बढ़ाई करने गया था। इसी दौरान शेयर मार्केट मे काम करने वाले निमेश अशोक ठक्कर  और रौनक ठक्कर से जान पहचान हुई। पढाई करने के बाद वह अपने घर बिलासपुर आ गया।
 
            घर आने के बाद भी निमेश अशोक ठक्कर और रौनक ठक्कर से बातचीत हो रही थी। 25 जनवरी 2021 से 14 जुलाई 2021 के बीच निमेश अशोक ठक्कर एवं रौनक ठक्कर के एकाउंट मे अपने खाते से 17 लाख 58 हजार रूपये अलग अलग खाते मे डाला। रूपयों को शेयर मार्केट मे लगाने  के नाम पर ट्रांसफर किया।
 
                      प्रतीक दामा ने बताया कि दोनो से जब वापस मांगने गया तो लौटाने से इंकार कर दिया। पुलिस ने प्रतीक दामा की शिकायत पर दोनो आरोपियों के खिलाफ अपराध दर्ज किया गया। मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस कप्तान पारूल माथुर विवेचना कर आरोपियों को गिरफ्तार करने का आदेश दिया।
 
          पारूल माथुर के निर्देश पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेन्द्र कुमार जायसवाल और नगर पुलिस अधीक्षक स्नेहिल साहु के मार्गदर्शन मे थाना प्रभारी भारती मरकाम ने टीम को पुलिस टीम को मुम्बई रवाना किया गया। पुलिस के अनुार चार माह तक आरोपी निमेश अशोक ठक्कर और रौनक ठक्कर के लोकेशन को ट्रेस किया गया। इस दौरान आरोपियों ने पुलिस को जमकर छकाया।
 
             पुलिस टीम ने 6 दिन तक मुम्बई महाराष्ट्र मे डेरा लगाकर लगातार एसीसीयू साईबर सेल के सहयोग से आरोपियों का लोकेशन हासिल किया गया। दोनो आरोपियों को मुम्बई से गिरफतार किया गया। आरोपियों को बिलासपुर में  न्यायालय के पेश कर जेल दाखिल कराया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *