कलयुगी बेटे ने बाइक से जा रहे मां-बाप और भाई को जीप से रौंदा, कुचले जाने से मां की हुई दर्दनाक मौत

राजस्थान के झुंझुनूं (Jhunjunu) जिले में कुछ दिन पहले एक वृद्धा सोनी देवी की हत्या के मामले में पुलिस ने खुलासा कर दिया है. बजरी के अवैध खनन (Illegal Mining) के मामले में बुजुर्ग की हत्या में उसका बड़ा बेटा रतन भी शामिल था. मामले में पुलिस ने बेटे समेत तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

डीएसपी विजय कुमार ने बताया कि 11 जून को सोनी देवी की जीप से कुचलकर हत्या कर दी गई थी. बजरी के अवैध खनन को लेकर मृतका के परिवार का अन्य लोगों के साथ विवाद चल रहा था. मामले की जांच के बाद खुलासा हुआ है कि हत्या करने के दौरान जीप में मृतका का बेटा रतन लाल सैनी, रतन गुर्जर व बलराम सैनी समेत अन्य मौजूद थे. तीनों से पूछताछ की गई और उन्होंने हत्या करना कबूल कर लिया. तीनों को कोर्ट में पेश करने के बाद पुलिस रिमांड पर लिया गया है. वहीं बाकि आरोपी अब भी फरार है.

जीप से कुचल कर दी बुजुर्ग की हत्या

दरअसल खेतड़ी उपखंड के कांकरिया गांव में जीप में सवार होकर आए एक दर्जन युवकों ने वृद्धा सोनी देवी, उसका पति मुखराम व छोटा बेटा शंकर लाल को बंधक बनाकर अपहरण ले गए थे. बीच रास्ते में बुजुर्ग महिला को नीचे पटककर जीप से कुचल दिया. रिपोर्ट में कांकरिया निवासी मुकेश गुर्जर, रतन गुर्जर, हरीराम, सुरेश गुर्जर, गोपीराम गुर्जर, धोलुराम गुर्जर और बलराम सैनी के साथ चार अन्य के खिलाफ पिस्टल से फायर करने व मारपीट करने का मामला दर्ज करवाया. वहीं 60 वर्षीय बुजुर्ग महिला सोनी देवी की हत्या का भी मामला दर्ज किया गया था.

मृतका के पति ने पहले करवाया था मामला दर्ज

वारदात से पहले मृतका के पति मुखराम ने अपने बेटे रतन लाल और अन्य खनन माफियाओं के खिलाफ मारपीट का मामला भी दर्ज करवाया था. उसका कहना था कि वे सभी मिलकर उसकी जमीन पर अवैध खनन करना चाहते हैं. जिसके लिए उसने मना कर दिया था. इस दौरान मारपीट की गई.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *