प्रधानमंत्री की सलाह,नेता अपनी बारी आने पर ही लगवाएँ कोरोना का टीका,इधर मंत्री ने कह दी ये बात…

दिल्ली। 16 जनवरी से शुरू हो रहे कोरोना टीकाकरण अभियान को लेकर आज प्रधानमंत्री मोदी ने राज्य के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक की। बैठक में पीएम मोदी ने टीकाकरण अभियान को लेकर नेताओं को खास हिदायत दी है और कहा है कि अपनी बारी आने पर ही कोरोना का टीका लगवाएं। इस दौरान नियमों का उल्लंघन ना करें। प्रधानमंत्री मोदी द्वारा शुरू किये गए टीकाकरण अभियान को लेकर महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मालिक ने कहा है कि लोगों के मन में कोरोना वैक्सीन को लेकर संशय है इसलिए पीएम मोदी पहले टीका खुद ही लगवाएं।

टीकाकरण अभियान की शुरुआत 16 जनवरी से की जाएगी। पीएम मोदी के अनुसार इस टीकाकरण अभियान में सबसे पहले 3 करोड़ स्वास्थ्य कर्मियों और फ्रंट लाइन वर्कर्स को कोरोना वैक्सीन दी जाएगी। इसके बाद पुलिसकर्मियों, सुरक्षाकर्मियों और जवानों को टीका लगाया जाएगा। वहीँ दूसरी चरण में उन लोगों को टीका लगेगा जिनकी उम्र 50 वर्ष से ज्यादा है या कोरोना का खतरा सबसे ज्यादा है। मीटिंग के दौरान पीएम मोदी ने अफवाहों से बचने की भी सलाह दी। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कोरोना वैक्सीन से जुड़े अफ़वाहों पर लगाम लगाने की ज़िम्मेदारी राज्यों की होगी।

इसके अलावा पीएम मोदी ने कहा कि जिन दो वैक्सीन के आपात इस्तेमाल की इजाज़त दी गयी है वे दोनों ही भारत में बनाई गए है। यह हमारे लिए गर्व की बात है। साथ ही उन्होंने कहा कि भारत में टीकाकरण की जो व्यवस्था उससे इस अभियान में काफी मदद मिलेगी और सुदूर गाँवों तक पहुँचने में कोई समस्या नहीं होगी।

हालाँकि प्रधानमंत्री के द्वारा शुरू किया गया टीकाकरण अभियान भी विपक्ष के हमले से नहीं बच सका। महाराष्ट्र सरकार में मंत्री और एनसीपी नेता नवाब मलिक ने कोरोना वैक्सीन पर सवाल उठाते हुए कहा कि लोगों के मन में इस वैक्सीन को लेकर काफी डर है। इसलिए प्रधानमंत्री मोदी खुद ही सबसे पहले कोरोना का टीका लगवाएं जिससे लोगों के मन में बसे डर को खत्म किया जा सके। 16 जनवरी से शुरू हो रहे टीकाकरण अभियान को लेकर देश के अलग अलग हिस्सों में वैक्सीन भेजने की तैयारी कर ली गयी है। टीकाकरण अभियान को लेकर सभी राज्यों में भी तैयारी शुरू कर दी गयी है। इसी कड़ी में पूरे उत्तर प्रदेश में करीब 3000 बूथ बनाये गए हैं। बिहार में कोरोना की वैक्सीन करीब 14 जनवरी तक पहुँच जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *