शहर वाले फ़िर लूट ले गए गाँव वालों का वैक्सीन , सीपत को मिले थे डेढ़ सौ डोज़,सौ शहरिया और पैंतीस एनटीपीसी वालों ने लगवा लिए ,गांव वालों के हिस्से में सिर्फ़ पन्द्रह टीके…

सीपत ( रियाज़ अशर्फ़ी ) । शासन ने वैक्सिनेशन के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन का नियम रखा हुआ है । इस नियम से ग्रामीण क्षेत्र में चल रहे वैक्सिनेशन से स्थानीय लोग वंचित हो रहे है । इसका 70 फीसदी फायदा शहर के लोग उठा रहे है । यही स्थिति शासकीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सीपत स्थित कोविड वैक्सिनेशन सेंटर में भी देखने को मिल रही है ।

सोमवार को सीपत में 150 एपीएल कार्डधारियों को वैक्सीन  लगाया जाना था । लेकिन इन  150 लोगो मे 100 तो सिर्फ बिलासपुर के थे । वही लगभग 35 लोग एनटीपीसी अधिकारी और उनके परिवार के थे  । सीपत के सिर्फ 10 ग्रामीणों को ही वैक्सीन का लाभ मिल पाया । इसके अलावा निरतु,बिटकुला,नरगोड़ा,दर्राभांठा, कौड़िया के एक एक लोगो को वैक्सीन लगाया। शहर के ज्यादार लोगो के सीपत में वैक्सिनेशन कराने से स्थानीय ग्रामीणों को इसका लाभ नही मिल पा रहा है । वहीं ग्रामीण क्षेत्र के लोग ऑनलाइन पंजीयन पेंच में फसकर अपना पंजीयन नही करा पा रहे है।


वैक्सिनेशन सेंटर में सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ी धज्जियां
सीपत पीएचसी सेंटर स्थित वैक्सिनेशन सेंटर में एपीएल कार्डधारियों की सुबह से बड़ी भीड़ थी । 11 बजे वैक्सीन लगाने का कार्य प्रारंभ किया गया । इस दौरान सेंटर में कोविड प्रोटोकॉल की जमकर धज्जियां उड़ी । इस दौरान सौ से अधिक लोग उपस्थित थे । लेकिन किसी ने सोशल सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नही किया गया। सीपत सरपंच राजेन्द्र धीवर ने आकर टोकन बांटा तब कही जाकर कुछ हद तक व्यवस्था दुरुस्त हुई।                 

 छांया की व्यवस्था नही ,गर्मी से बेहाल होते रहे लोग
वैक्सिनेशन सेंटर में वैक्सीन लगवाने पहुंचे लोगो के लिए किसी भी तरह से छाया की व्यवस्था नही की गई है। गर्मी से बचने कुछ लोग पेड़ो के नीचे तो कुछ लोग दीवार और भवन के आंड़ का सहारा लेकर अपने आपको धुप से बचते दिखे।  

एनटीपीसी में 18 + के वैक्सीन को 45+ वालो को लगा दिया गया इसलिए सेंटर को कर दिया गया बंद


प्रशासन ने सीपत एनटीपीसी में भी एक वैक्सिनेशन सेंटर बनाया था 11 मई को वहां 18 से 44 वर्ष की आयुवर्ग के लिए 52 वैक्सीन भेजा गया था । लेकिन एनटीपीसी ने उन वैक्सिनो को 45+ वालों को लगा दिया गया इससे मस्तूरी एसडीएम नाराज़ हो गए और वहां से वैक्सिनेशन सेंटर को ही हटा दिया । यही कारण है कि अब एनटीपीसी के लोग वैक्सीन लगवाने सीपत पीएचसी पहुच रहे है।


 शासन ने वैकिनेशन कराने के लिए ऑनलाइन सुविधा दी है । इसमें आवेदक को अपने पंसद के सेंटर का चयन करने ऑप्शन दिया है ।यही कारण है कि शहर से लगे नजदीक के वैक्सिनेशन सेंटर में ज्यादातर शहर के लोग आ रहे है।
एनआर कंवर,बीएमओ मस्तूरी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *