हत्या के बाद फरार तीन आरोपी गिरफ्तार..चौथे की तलाश..मध्यप्रदेश में घुसने से पहले पुलिस कार्रवाई

बिलासपुर—-हत्या की घटना को अंजाम देने के बाद दूसरे राज्य में पनाह लेने से पहले आरोपियों को बिलासपुर पुलिस ने धर दबोचा है। हत्या की घटना में शामिल तीनों आरोपियों को पुलिस ने तकनीकि के मदद से मध्यप्रदेश में घुसने से पहले ही गौरेला पेन्ड्रा मरवाही जिला से गिरफ्तार किया है। 
                          हत्या मामले का खुलासा करते हुए एडिश्नल एसपी उमेश कश्यप ने बताया कि चकरभाठा थाना क्षेत्र के नयापारा निवासी विनोद साहू 5 सितम्बर 2021 को रात्रि मे थाना पहुंचा। प्रार्थी ने बताया कि अशोकदास मानिकपुरी के साथ मंदिरिहा तालाब के पास घरेलू बातचीत कर रहा थे। इसी दौरान तीन- चार व्यक्ति आए और अशोकदास मानिकपुरी समेत उसके साथ गलौच करना शुरू कर दिया। तीनों ने हम दोनों के साथ मारना पीटना शुरू कर दिया। किसी ने डायल 112 को कॉल किया। पुलिस टीम मौके पर पहुंच गयी। दोनों को बिल्हा अस्पताल में भर्ती कराया गया।
 
              प्रार्थी की शिकायत को पुलिस ने गंभीरता से लिया। विवेचना की कार्रवाई शुरू हुई। एडिश्नल एसपी ने बताया कि गंभीर रूप से घायल अशोक दास मानिकपुरी को बेहतर इलाज  के लिए बिल्हा अस्पताल से सिम्स रिफर किया गया। इसके बाद परिजनों ने अशोक दास मानिकपुरी महादेव अस्पताल में भर्ती कराया।
 
                    पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए आईपीसी की धारा 325 307 का अपराध दर्ज किया। उपचार के दौरान 14 सितम्बर की सुबह अशोकदास मानिकपुरी का महादेव अस्पताल में मौत हो गयी। इसके बाद आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 302 को जोड़ा गया।
 
           एडिश्नल एसपी ने बताया कि घटना की तारीख से आरोपी फरार चल रहे थे। लेकिन पुलिस लगातार पतासाजी कर रही थी। इसी बीच जानकारी मिली कि दो आरोपी गौरेला पेन्ड्रा मरवाही के रास्ते मध्यप्रदेश जा रहे हैं।
 
                खबर मिलने केबाद आरोपियों की धरपकड़ के लिए टीम को तत्काल रवाना किया गया। फरार हो रहे आरोपी राहुल राज उर्फ डुग्गू निवासी बूटापारा तोरवा और संजय ध्रुव उर्फ संजू निवासी नयापारा थाना चकरभाठा को केवची में घेराबंदी कर पकड़ा गया ।
 
                 आरोपी राहुल राज उर्फ डुग्गू, संजय ध्रुव उर्फ संजू ने पूछताछ के दौरान आरोप को कबूल किया। घटना में शामिल दीपक कुमार प्रजापति निवासी बूटापारा को भी गिरफ्तार किया गया। तीनों आरोपियों के निशानदेही पर मारपीट में उपयोग किए गए 3 नग बांस का डंडा  बरामद किया गया। तीनों को न्यायिक रिमांड पर न्यायालय में पेश करने के बाद जेल दाखिल कराया गया है। एडिश्नल एसपी ने बताया कि जल्द ही घटना में शामिल फरार चौथे आरोपी को भी पकड़ लिया जाएगा। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *