11 साल से 20 शिक्षक गायब…नदारद गुरूजी की तलाश…कलेक्टर ने दिया सेवा समाप्ति का आदेश..कुछ पर कठोर कार्रवाई

BHASKAR MISHRA

बिलासपुर— कलेक्टर अवनीश शरण ने लम्बे समय से गायब 20 शिक्षकों को सेवा समाप्ति नोटिस जारी करने का आदेश दिया है।खबर के बाद शिक्षा जगत में हलचल मच गयी है। जानकारी देते चलें कि पिछले समय सीमा बैठक के दौरान कलेक्टर ने डीईओ से नदारत शिक्षकों की सूची पेश करने को कहा था। सोमवार को सूची पेश किए जाने के बाद कलेक्टर ने सभी गायब 20 शिक्षको की सेवा समाप्ति का आदेश दिया है।

स्कूल शिक्षा विभाग की विभिन्न शालाओं से 20 शिक्षक और कर्मचारी लम्बे समय से बिना किसी पूर्व सचना के स्कूल से अनधिकृत रूप से नदारद हैं। मामले में पिछले बैठक में कलेक्टर अवनीश शरण ने ऐसे शिक्षकों की सूची पेश करने को कहा था। जिला शिक्षा अधिकारी ने सोमवार को बैठक के दौरान बताया कि 20 शिक्षक बिना किसी पूर्व सूचना के कार्य पर अनुपस्थित है।

डीईों ने बताया कि 13 शिक्षकों की गैरहाजिरी 3 साल से अधिक समय है। 7 शिक्षक और कर्मचारी 3 साल से स्कूल नहीं आ रहे हैं। जानकारी मिलने के बाद टीएल बैठक में ही कलेक्टर अवनीश शरण ने तीन साल से अधिक समय से गायब शिक्षकों की सेवा समाप्ति की अंतिम नोटिस जारी करने को कहा।

 कलेक्टर ने नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि तीन साल से कम अवधि वाले कर्मियों को कठोर अनुशासनात्मक कार्रवाई किया जाए। कुछ शिक्षक तो दस-दस, ग्यारह-ग्यारह साल से बिना सूचना के स्कूल से गायब हैं। इससे स्कूल की पढ़ाई प्रभावित हो रही है।

गायब शिक्षकों के नाम

जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार बिल्लीबंद-कोटाके शिक्षक  बत्तीलाल मीना 11 साल,मनोरमा तिवारी रिस्दा 10 साल, प्रेमलता पाण्डेय नवागांव 9 साल , राकेश उरांव दर्रीघाट 8 साल , अल्का महतो फरहदा 7 साल,नलिनी अग्रवाल दर्रीघाट 6 साल, दिव्यनारायण रात्रे 6 साल से से गायब है।

इसके अलावना स्टेनली मार्क एक्का तिफरा, 5 साल, बसंत कुमार लकड़ा ओखर 5 साल, शारदा सिंह, मोढ़े 5 साल, यशवंत कुमार साहू डण्डासागर 3 साल, मेघा यादव परसापानी 3 सालसे, हरीराम पटेल भतचौरा 3 साल से स्कूल नहीं आ रहे हैं।

शिवकुमार बछालीखुर्द 2 साल, अमन मिरी 22 महीना , श्याम सुंदर तिवारी सीपत 18 माह, राकेश मिश्रा बेलसरा 18 माह , मदनलाल श्यामले कंआंजति 17 माह, रामबिहारी ताम्रकार मस्तरी 15 माह,शशिकान्त यादव सीस 11 महीने से स्कूल से बिना सूचना नदारद है। जिला शिक्षा अधिकारी ने बताया कि यदि कोई कर्मचारी बिना किसी लिखित सूचना के लगातार तीन साल से अधिक समय से शासकीय सेवा से दूर  है तो उसे कर्मचारी की सेवा बर्खास्त किए जाने का निर्दश है।

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

close