लोकसभा चुनाव की तैयारी,कैसे कराएंगे,चुनाव सेक्टर अधिकारियों को दी गई ट्रेनिंग

बिलासपुर-कलेक्टर डाॅ.संजय अलंग ने सोमवार को मंथन सभाकक्ष में लोकसभा निर्वाचन 2019 हेतु सेक्टर अधिकारियों को प्रशिक्षण दिया। डाॅ.अलंग ने सेक्टर अधिकारियों को निर्वाचन में उनके कार्य, जिम्मेदारी, मतदान पूर्व जिम्मेदारी, मतदान दिवस की जिम्मेदारी आदि के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि सेक्टर अधिकारी निर्वाचन की घोषणा से मतदान तक चुनाव प्रबंधन हेतु अपने सेक्टर के मतदान केन्द्रों के लिये उत्तरदायी होंगे। प्रभार क्षेत्र के मतदान केन्द्रों के रूट और केन्द्रों में मूलभूत सुविधाओं का भौतिक सत्यापन करना होगा। मतदान से पूर्व राजनीतिक दलों के कार्यालय मतदान केन्द्र से 100 मीटर दूर होने की जांच एवं आदर्श आचरण संहिता से संबंधित समस्त विषयों पर पैनी नजर रखनी होगी।सीजीवालडॉटकॉम के WhatsApp ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक करे
सेक्टर अधिकारियांे को प्रभार क्षेत्रों में ईवीएम और वीवीपेट का प्रदर्शन करना होगा। सेक्टर अधिकारियों को मतदाताओं को जानकारी देकर मतदान के प्रति जागरूक करना होगा। उन्होंने बताया कि सेक्टर अधिकारियांे को मतदान केन्द्रों का लगातार निरीक्षण कर लोगों से चर्चा कर वास्तविक असुरक्षा संबंधी जानकारी तैयार करनी होगी। इसके साथ ही मतदाताओं को प्रभावित करने वाले व्यक्ति/समूह की पहचान करनी होगी।

स्वास्थ्य विभाग में तबादले,9 जिलों के CMHO बदले….देखिये पूरी सूची

सेक्टर अधिकारी मतदान केन्द्रों में मतदान दल, मतदान सामग्री एवं सुरक्षा बलों का पहुंचना सुनिश्चित करेंगे। उन्हें मतदान दलों की किसी भी तरह की शंकाओं का समाधान कर कण्ट्रोल रूम को ओके रिपोर्ट देनी होगी। मतदान दिवस के दिन सेक्टर अधिकारी मतदान प्रारंभ होने, सुरक्षाबलों की तैनाती की जांच कर रिपोर्ट देंगे और मतदान केन्द्रों का सतत निरीक्षण करेंगे। सेक्टर अधिकारी मतदान समाप्ति के बाद पीठासीन अधिकारी की डायरी, फार्म 17-। को सही रूप में भरायेंगे।
डाॅ.अलंग ने कहा कि सेक्टर अधिकारी की निर्वाचन प्रक्रिया में महत्वपूर्ण भूमिका होती है। उन्हें ईवीएम, वीवीपेट, निर्वाचन प्रक्रिया, मतदान प्रक्रिया और आदर्श आचरण संहिता की अच्छी जानकारी रखनी चाहिये। उन्हें अपने सेक्टर के मतदान केन्द्रों के मतदाता एवं वहां पदस्थ फील्ड स्टाॅफ सतत सम्पर्क बनाकर रखना चाहिये जिससे स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव कराया जा सके।
loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...