आंध्रा हाई स्कूल प्रबंधन की मनमानी..त्योहार में भी खोला स्कूल..शिक्षिकाओं से लिया काम..लोगों में जमकर आक्रोश

बिलासपुर—रेलवे परिसर स्थित आंध्रा स्कूल का हर अंदाज निराला है। धनतेरस के दिन ना केवल स्कूल खोला गया। बल्कि शिक्षक और छात्रों को बुलाकर पठन पाठन भी कराया गया। यह जानते हुए भी कि धनतेरस को छुट्टी है। बावजूद इसके स्कूल प्रबंधन ने ना केवल बच्चों के अभिभावकों को परेशान किया। बल्कि अध्यापकों को भी त्योहार के दिन स्कूल में पठन पाठन कराना पड़ा। मामले में जिला शिक्षा विभाग के अधिकारी ने बताया कि धनतेरस को अवकाश है। यदि स्कूल प्रबंधन ने स्कूल खोला है और शिक्षकों ने पठन पाठन कराया है तो मामले का पता लगाएंगे। स्कूल खुलने का कारण भी पूछेंगे। 

                           प्रदेश में धनतेरस का अवकाश है। अवकाश स्कूल शिक्षा विभाग के लिए भी लागु है। बावजूद इसके रेलवे क्षेत्र स्थित आंध्रा स्कूल प्रबंधन ने शिक्षकों और छात्राओं को बुलाकर छुट्टी के दिन भी स्कूल लगाया। इस बात को लेकर शिक्षकों के साथ अभिभावकों में गहरा आक्रोश है।

                           बहरहाल मामले में ना तो शिक्षा विभाग कुछ बोलने को तैयार है और ना ही आंध्रा स्कूल प्रबंधन ही मुंह खोलने को तैयार हुआ। बताया जा रहा है कि आंध्रा प्रबंधन स्कूल ऐसा सिर्फ शिक्षकों को प्रताड़ित करने के लिए किया है। लेकिन किसकों..कोई मुंह खोलने को तैयार नहीं है। लेकिन अभिभावकों और शिक्षकों में धनतेरस के दिन स्कूल खोलने को लेकर गहरी नाराजगी है।

छुट्टी के दिन स्कूल खोला गया..उन्हें जानकारी नहीं

               आंध्रा हाई स्कूल छुट्टी  यानि त्योहार के दिन खुलने की वजह पूछने पर जिला शिक्षा विभाग के अधिकारी अजय कौशिक ने बताया कि इसकी उन्हें जानकारी महीं है। लेकिन स्कूल क्यों खोला गया..बच्चे या शिक्षिकाओं को क्यों बुलाया गया पता लगाएंगे। उचित कार्रवाई भी करेंगे। 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *