शाला प्रवेश उत्सव में स्थानीय जनप्रतिनिधियों की अनदेखी,शिक्षको को NOTICE

अंबिकापुर। शाला प्रवेश उत्सव में स्थानीय जनप्रतिनिधियों को नहीं बुलाने पर बीईओ ने दो शिक्षकों को नोटिस जारी किया है। बीईओ ने दोनों शिक्षकों से तीन दिन में जवाब मांगा है। अन्यथा अनुशासनात्मक कार्यवाही की चेतावनी दी है। बीईओ के नोटिस से यह बहस छिड़ गई है कि एक ओर शिक्षा में गुणवत्ता की बात की जाती है और दूसरी ओर शिक्षकों को हतोत्साहित किया जाता है। जानकारी के अनुसार सरगुजा जिले के मैनपाट विकासखण्ड में 1 जुलाई को शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय कमलेश्वरपुर शाला प्रवेश उत्सव मनाया गया था। इसमें स्थानीय पंचायत प्रतिनिधियों, जिला पंचायत सदस्य, जनपद पंचायत सदस्य, गौ सेवा आयोग के सदस्य को आमंत्रित नहीं किया गया था।CG News update के लिए हमारे व्हाट्सएप्प ग्रुप से जुड़े,यहां क्लिक करे

इसे भेदभावपूर्ण कृत्य व सिविल सेवा आचरण नियम 1965 के नियम 3 के विपरीत मानते हुए प्रभारी प्राचार्य व एक व्याख्याता को नोटिस जारी कर तीन दिनों में जवाब मांगा गया है। विकासखंड शिक्षा अधिकारी ने स्कूल के प्रभारी प्राचार्य संजीव कुमार व व्यख्याता निक राम बरेठ को कारण बताओ नोटिस जारी किया है और निर्धारित समय सीमा में जवाब मांगा है, अन्यथा अनुशासनात्मक कार्यवाही की चेतावनी दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *