DA को लेकर 17 जुलाई को दिल्ली में बड़ा प्रदर्शन,महंगाई भत्ता संघर्ष मोर्चा करेगा दिल्ली कूच

बिलासपुर।मंहगाई भत्ता संघर्ष मोर्चा में समान भूमिका में शामिल छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन के प्रदेशाध्यक्ष संजय शर्मा, प्रदेश संयोजक सुधीर प्रधान, वाजिद खान, प्रदेश उपाध्यक्ष हरेंद्र सिंह, देवनाथ साहू, बसंत चतुर्वेदी, प्रवीण श्रीवास्तव, विनोद गुप्ता, डॉ कोमल वैष्णव, प्रांतीय सचिव मनोज सनाढ्य प्रांतीय कोषाध्यक्ष शैलेन्द्र पारीक ने कहा है कि निष्पक्ष बैनर महंगाई भत्ता संघर्ष मोर्चा के घटक संगठनों की 24 जून को रायपुर में बैठक आयोजित की गई, टीचर्स एसोसिएशन के प्रदेश पदाधिकारी आयुष पिल्ले, योगेश सिंह ठाकुर, जितेंद्र मिश्रा बैठक में शामिल हुए,,जिसमे यह निर्णय सर्वसम्मति से लिया गया की महंगाई भत्ता संघर्ष मोर्चा द्वारा 34% डीए एवम गृह भाड़ा भत्ता की मांग को लेकर 11 से 13 अप्रैल की प्रदेश व्यापी हड़ताल के बाद प्रदेश की भूपेश सरकार ने मात्र 5% डीए देकर कर्मचारियों को छला है।

अंहकार में डूबी हुई सरकार के सामने एक दिन या तीन, चार दिन की हड़ताल करने का कोई औचित्य नही हैं।सरकार के कर्मचारी विरोधी नीतियों को राष्ट्रीय स्तर पर खुलासा करने एवम कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी एवम पार्टी के नेता राहुल गांधी को सरकार की दमनकारी नीतियों को बताने के लिए 17 जुलाई को दिल्ली के जंतर मंतर में धरना तथा 18 जुलाई को कांग्रेस राष्ट्रीय नेताओं को ज्ञापन सौंपा जाएगा।

धरना प्रदर्शन में सम्मलित होने वाले कर्मचारी साथी 16 जुलाई को गोंडवाना एवम संपर्क क्रांति ट्रेन से तथा बिलासपुर एवम गौरेला पेंड्रा के साथी हीराकुंड एक्सप्रेस से रिजर्वेशन करा रहे है।महंगाई भत्ता संघर्ष मोर्चा के निष्पक्ष बैनर में सभी संघ के प्रदेश अध्यक्ष के समान भूमिका में मंहगाई भत्ता संघर्ष मोर्चा का गठन हुआ है, जिसके द्वारा पूर्व में ही चरणबद्ध हड़ताल किये जाने के बाद मात्र 5% महंगाई भत्ता का आदेश किया गया था, कर्मचारी इससे नाखुश होकर दिल्ली के जंतर मंतर में 17 जुलाई को धरना, प्रदर्शन करेंगे। ज्ञात हो छत्तीसगढ़ के कर्मचारियो को मात्र 22 % महंगाई भत्ता दिया जा रहा है, जबकि केंद्र व अन्य राज्यो में 34 % महंगाई भत्ता देय है, छत्तीसगढ़ के कर्मचारी अभी महंगाई भत्ता के मामले में 12 % पीछे है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *