सीएमडी ने कुमार ने कहा..सुरक्षा के साथ हासिल करेंगे टारगेट..सुझावों का होगा, गंभीरता से पालन

नागपुर—वेस्टर्न कोलफील्ड लिमिटेड यानि वेकोली सुरक्षा समिति की महत्वपूर्ण बैठक उच्च अधिकारियों की उपस्थिति में हुई। बैठक में महत्वपूर्ण बिन्दुओं पर अधिकारियों के बीच चर्चा हुई। बैठक को अध्यक्ष सह प्रबंधक निदेशक मनोज कुमार ने संबोधित किया। मनोज कुमार ने कहा कि  कर्मियों की सुरक्षा हमारी प्राथमिकताओंं में सबसे ऊपर है। 
                                              वेस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड यानि वेकोलि  की “49 वीं त्रिपक्षीय सुरक्षा समिति” की बैठक का आयोजन गरिमामय वातावरण में किया गया। बैठक में अध्यक्ष-सह-प्रबंध निदेशक मनोज कुमार ने उपस्थित अधिकारियों और कर्मचारियों को संबोधित किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे मनोज कुमार ने बताया कि हमारे लिए कम्पनी का एक- एक व्यक्ति महत्वपूर्ण है। उनकी सुरक्षा ही हमारी प्राथमिकता है। 

सुझावों का होगा गंभीरता से पालन

           मनोज कुमार ने अध्यक्षीय सम्बोधन में कहा कि, त्रिपक्षीय सुरक्षा समिति के सदस्यों की तरफ से दिए गए सभी महत्वपूर्म सुझावों को यथाशीघ्र क्रियान्वित किया जाएगा। कर्मियों की सुरक्षा सदैव हमारी प्राथमिकता है।  कुमार ने वेकोलि के विभिन्न पहलुओं पर चर्चा कर सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को उत्साहित किया। उन्होने इस दौरान विशेष जोर देते हुए कहा कि मानव और मशीनों की सुरक्षा को प्राथमिकता लिया जाना बहुत जरूरी है।

सुरक्षा के साथ उत्पादन भी

                   उन्होंने दुहराया कि हम इस साल कोयला उत्पादन और प्रेषण के निर्धारित लक्ष्य को सुरक्षात्मक तरीके से ना केव ल हासिल करेंगे। बल्कि देश की ऊर्जा जरूरतों को भी पूरा करेंगे। भविष्य में परियोजना प्रभावित लोगों की पहचान कर तकनीकी प्रशिक्षण देने की दिशा में पुरजोर तरीके से आगे भी बढ़ेंगे।
                  सीएमडी ने बताया कि हम स्मार्ट ट्रेनिंग सेंटर बनाने की दिशा में गंभीरता के साथ आगे बढ़ रहे हैं। विगत सालों में वेकोलि को मिले नौ राष्ट्रीय खान सुरक्षा पुरस्कारों के साथ ही सीआईएल कॉर्पोरेट सेफ्टी अवार्ड के लिए टीम को बधाई दी।

शून्य दुर्घटना पर दिया गया जोर

                 बैठक के दौरान कम्पनी खदानों में शून्य दुर्घटना लक्ष्य हासिल करने का संकल्प लिया गया। कर्मियों और संसाधनों की सुरक्षा सुनिश्चित करने पर बल दिया गया। बैठक में बताया गया कि वेकोलि के खदानों में सुरक्षा मित्र मंडली का गठन किया गया है। समय-समय पर नियमित रूप से खदानों का निरीक्षण भी किया जाता है। एचईएमएम  मशीनरी का संचालन विशेष सावधानी से करना है। सीएमडी  ने उपस्थित लोगों के खुशियों को साझा करते हुए बताया कि वेकोलि खदानों में सम्पूर्ण व्यवस्था का आईआईटी. खड़गपुर,आईआईटी बीएचयू के वैज्ञानिकों ने अध्ययन किया है।
                  बैठक में उपस्थित मुख्य अतिथि और उप महानिदेशक खान सुरक्षा पश्चिमी अंचल, मलय टीकादार  ने कहा कि वेकोलि अपनी खदानों में सुरक्षा के सभी मानकों का पूर्ण करता है। उन्होने इस दौरान वेकोलि के सुरक्षा उपायों के प्रति संतोष भी जाहिर किया।
इन्होने बातों को गंभीरता से पेश किया
                 बैठक में निदेशक (कार्मिक) डॉ. संजय कुमार, निदेशक तकनीकी (संचालन) जे.पी. द्विवेदी, निदेशक तकनीकी (परियोजना एवं योजना) ए. के. सिंह, सुरक्षा निदेशालय के वरिष्ठ अधिकारी गण आर. टी. मांडेकर,  वी. पी. सिंह, नीरज कुमार,  सागेश कुमार एम.आर., एन. जी. फुले, एस. जी. भैसारे,  एस. आनन्द वेल और एस. पुट्टाराजू प्रमुखता से उपस्थित रहे। सभी ने अपनी बातों को गंभीरता के साथ पेश किया।
बैठक में अधिकारियों ने भाग
                     बैठक में सी. जे. जोसेफ सीआईएल सेफ़्टी बोर्ड सदस्य जितेन्द्र मल्ल, महंगी यादव,  अशोक नामदेव, सय्यद सर्फराज़ुद्दीन, सुनील मोहितकर, श्रीनाथ सिंह, कमलेश द्विवेदी, कैलाश निरापुरे और रविंद्र थुने, समस्त क्षेत्रीय महाप्रबंधक, विभागाध्यक्ष वेकोलि मुख्यालय,ए. के. दीक्षित, महाप्रबंधक (सुरक्षा एवं संरक्षण) और अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित रहे।
                स्वागत भाषण ए. के. दीक्षित ने और धन्यवाद महाप्रबंधक (उत्पादन) आलोक ललित कुमार ने जाहिर किया। बैठक के प्रारंभ में शहीद कर्मियों की स्मृति में दो मिनट का मौन रखा गया। सुरक्षा शपथ एस. के. पांडेय मुख्य प्रबंधक (खनन) ने दिलायी। पॉवर पॉइंट प्रेज़ेंटेशन सुधांशु श्रीवास्तव मुख्य प्रबंधक (खनन) ने किया। कार्यक्रम का संचालन मिलिंद चहांदे, प्रबंधक (जनसंपर्क) ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *