इंडिया वाल

कर्मचारियों के लिए महत्वपूर्ण खबर, EPFO ने किया यह ट्वीट, रहना होगा अलर्ट, जानें अपडेट

EPFO Alert: कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) ने अपने साढ़े 6 करोड़ नौकरीपेशा लोगों और कर्मचारियों को अलर्ट किया है। EPFO ने अपने सदस्यों को धोखाधड़ी से बचाने के लिए सर्तक किया है। यह अलर्ट प‍िछले कुछ द‍िनों ईपीएफओ के नाम पर कई फ्रॉड सामने आने के बाद जारी क‍िया गया है। इसके ल‍िए यह जरूरी नहीं क‍ि आप सरकारी कर्मचारी हैं या क‍िसी न‍िजी कंपनी में नौकरी करते हैं।दरअसल,वर्तमान में EPFO के 6.5 करोड़ सदस्य है।इसके तहत हर महीने पीएफ कटता है, ज‍िन कर्मचार‍ियों का पीएफ कटता है, उनके ल‍िए कर्मचारी भव‍िष्‍य न‍िध‍ि संगठन (EPFO) की तरफ से अलर्ट जारी क‍िया गया है। जिसमें कहा गया है कि EPFO कभी भी अपने सदस्‍यों से फोन, सोशल मीड‍िया, व्‍हाट्सएप आद‍ि के माध्‍यम से पैन, आधार, यूएएन, बैंक अकाउंट और ओपीटी जैसी व्‍यक्‍त‍िगत जानकारी नहीं मांगता है, ऐसे में क‍िसी भी कॉल या व्‍हाट्सएप कॉल पर उत्‍तर न दें।

क्या है ईपीएफओ का ट्वीट- EPFO ने ट्वीट कर लिखा है कि EPFO कभी भी अपने सदस्यों से व्यक्तिगत डिटेल्स जैसे आधार, पैन, यूएएन, बैंक खाता या ओटीपी फोन या सोशल मीडिया पर शेयर करने के लिए नहीं कहता है। इसके अलावा EPFO किसी भी सेवा के लिए कभी भी व्हाट्सएप, सोशल मीडिया आदि के माध्यम से कोई राशि जमा नहीं करने को कहता है। इस प्रकार के कॉल या SMS का उत्तर कभी न दें।

जानें क्या है ईपीएफ- बता दे कि कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) एक रिटायर्मेंट प्लान है, जिसे कर्मचारी भविष्य निधि संगठन मैनेज करता है। EPF स्कीम में कर्मचारी और उसकी कंपनी हर महीने बराबर की राशि का योगदान करते हैं। यह कर्मचारी की बेसिक सैलरी का 12 फीसदी होता है, सरकार ने इस वित्त वर्ष के लिए EPF में जमा राशि पर 8.1 फीसदी की ब्याज दर तय की है।

COVID19-सरकार ने किया स्पष्ट, पेंशन में कमी का कोई प्रस्ताव नहीं
Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS