चार लाख की धोखाधड़ी..दुर्ग में पकड़ाया नटवर लाल..चेक बाउंस पर पीड़ित ने की थी शिकायत

बिलासपुर—- तारबाहर पुलिस ने नौकरी लगाने के नाम पर ठगी को अंजाम देने वाले आरोपी को धर दबोचा है। दुर्ग जिला स्थित उतई निवासी आरोपी का नाम सुजीश नारंग है। आरोपी ने पीड़ित से नौकरी लगाने के नाम पर चार लाख की धोखाधड़ी किया है।
 
                   तारबाहर पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार गोकुलपुर कोटा निवासी राकेश कुमार साहू ने 1 नवम्बर को  रिपोर्ट दर्ज कराया कि साल 2017 में उतई जिला दुर्ग निवासी सुजीत कुमार नारंग  से पहचान हुई।  सुजीत कुमार नारंग सरकारी शिक्षक है। सुजी तने ऊंचे लोगों से पहचान का हवाले देते हुए पुलिस में नौकरी  लगवाने का आश्वासन दिया।
 
             पीड़िता ने बताया कि नौकरी लगाने के लिए आरोपी ने 4 लाख रूपए नगद लिया था। बावजूद इसके पुलिस में भर्ती नहीं कराया। इसेक बाद रूपया मांगने पर वह टालमटोल करने लगा। उसने आश्वासन दिया कि दुबारा भर्ती के समय नौकरी लगवा देगा। लेकिन इस बार भी नौकरी नहीं लगी। 
 
             इसके बाद जब रूपये लेने आरोपी के घर गया तो 2 लाख रूपये वापस दिया। और बाकी 2 लाख का चेक दिया। बैंक में जमा करने पर चेक बाउंस हो गया। इस बीच आरोपी ने बातचीत तो दूर फोन उठाना बंद कर दिया। 
 
                              थाना प्रभारी जयप्रकाश गुप्ता ने बताया कि पीड़ित की शिकायत पर आरोपी के खिलाफ आरोप दर्ज किया गया। मामले की जानकारी पुलिस कप्तान को दी गयी। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक उमेश कश्यप के निर्देश पर आरोपी का पतासाजी शुरू की गयी। तारबाहर पुलिस टीम मुखबीर की सूचना पर दुर्ग स्थित उतई गांव में आरोपी के घर दबिश देते हुए आरोपी को धर दबोचा। आरोपी ने  पूछताछ करने पर जुर्म स्वीकार किया। आरोपी ने बताया कि प्रार्थी से नौकरी लगाने के नाम पर 4 लाख रूपयों की धोखाध़ड़ी किया है। आरोपी को विधिवत गिरफ्तार कर न्यायालय के हवाले किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *