20 राज्यों में 13 अक्टूबर तक भारी बारिश का रेड-ऑरेंज अलर्ट, चक्रवाती तूफान सहित दो सिस्टम एक्टिव, गरज चमक की चेतावनी, जानें पूर्वानुमान

मौसम (Today weather update) एक बार फिर से बदलाव दिखने लगा है। दरअसल कई राज्यों में बारिश की गतिविधियां (heavy rain) शुरू हो गई है। वही IMD Alert ने बिहार झारखंड उत्तर प्रदेश उत्तराखंड मध्य प्रदेश सहित पूर्वी राज्यों में भारी बारिश का अलर्ट जारी कर दिया गया है। पर्वतीय राज्यों के पर्वतीय शिखर पर बर्फबारी शुरू हो गई है। पर्वतीय राज्यों में गुलाबी ठंड (cold) की दस्तक देखने को मिल रही है। 20 अक्टूबर तक उत्तर प्रदेश और बिहार के कुछ हिस्सों में गुलाबी ठंड की दस्तक देखने को मिलेगी। जबकि उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड से अब मानसून की विदाई निश्चित है।उत्तर प्रदेश के कई हिस्सों से मानसून विदा हो चुका है जबकि उत्तराखंड और मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों में मानसूनी गतिविधियां जारी है। मौसम विभाग ने आज के क्षेत्रों में भारी बारिश की संभावना जताई है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग की मानें तो देश के अधिकांश हिस्से में मानसून वापस आ गया है लेकिन बारिश कुछ और दिनों तक जारी रहेगी। सुपर साइक्लोन नोरु (cyclone Noru) के कारण बंगाल की खाड़ी के ऊपर चक्रवाती परिसंचरण उत्पन्न हुआ है। जिससे मौसम के मिजाज में बदलाव देखा जा रहा है।

मौसम विभाग ने पश्चिम बंगाल उड़ीसा झारखंड मध्य प्रदेश आंध्र प्रदेश बिहार उत्तर प्रदेश मध्य प्रदेश और पूर्वी राजस्थान के अलावा हरियाणा के कुछ हिस्से में बारिश का येलो ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। साथ ही गरज चमक और वज्रपात की भी चेतावनी जारी की गई है।

दिल्ली मौसम अपडेट

आईएमडी ने भविष्यवाणी की कि दिल्ली और एनसीआर में 9 अक्टूबर तक हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। राज्य में भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) द्वारा एक येलो अलर्ट जारी किया गया है। राजधानी दिल्ली में आसमान में बादल छाए रहेंगे। कुछ हिस्सों में बूंदाबादी देखने को मिल सकती है। मानसून के अंतिम दिनों में अच्छी खासी बारिश रिकॉर्ड की जाएगी। तापमान में तीन से चार फीसद की गिरावट से मौसम सुहावना बना रहेगा। राजधानी दिल्ली में शाम तक ठंडी हवा चलने से मौसम सुहावना बना रहेगा। हालांकि 22 अक्टूबर के बादल के मौसम में बड़े बदलाव नजर आएंगे।

यूपी में भारी बारिश

उत्तर प्रदेश की बात करें तो मानसून कई क्षेत्रों पर खासा प्रभाव नहीं रहा। हालांकि सितंबर के अंत से उत्तर प्रदेश के मौसम में बदलाव दिख रहे हैं। एक बार फिर से चक्रवाती परिसंचरण निर्मित होने की वजह से उत्तर प्रदेश के कई जिलों में बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। रामपुर बहराइच मुरादापुर बरेली लखीमपुर खीरी लखनऊ कानपुर उन्नाव प्रतापगढ़ फैजाबाद गोरखपुर और गोंडा में आज भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया गया है। 12 अक्टूबर तक उत्तर प्रदेश में बारिश की गतिविधियां जारी रहेगी।

उत्तराखंड में आज भारी बारिश का अलर्ट 

उत्तराखंड में आज भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया। दरअसल उत्तराखंड में 6 से 9 अक्टूबर तक कई हिस्सों में बारिश की गतिविधियां जारी रहेगी। पूर्वी क्षेत्र में अति भारी बारिश का रेड अलर्ट घोषित किया गया। साथ ही भूस्खलन और वज्रपात की संभावना से लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी गई है। केदारनाथ बद्रीनाथ हेमकुंड और अन्य पहाड़ियों पर यात्रा करने की सलाह देते हुए मौसम विभाग ने इन क्षेत्रों में अति भारी बारिश की संभावना जताई है।

इसके अलावा, गुरुवार और शनिवार (6 अक्टूबर, 8 अक्टूबर) को उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश में अलग-अलग स्थानों पर बहुत भारी बारिश (115.5 मिमी-204 मिमी) की भविष्यवाणी की गई है, जबकि उत्तराखंड और उत्तर-पश्चिमी उत्तर प्रदेश में शुक्रवार (204 मिमी) को अलग-अलग स्थानों पर अत्यधिक भारी बारिश की संभावना है।

बिहार में ऑरेंज अलर्ट

बिहार में फिलहाल बारिश का दौर जारी रहेगा। हथिया नक्षत्र सहित मानसूनी गतिविधि और चक्रवाती परिसंचरण के कारण बिहार के 20 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। पूर्वी व दक्षिणी पूर्वी हवा के कारण बारिश का सिलसिला अभी जारी रहेगा। तापमान में गिरावट देखी जा रही है। अभी तक राज्य में 14 मिलीमीटर बारिश हुई है। सामान्य से लगभग दोगुनी बारिश रिकॉर्ड करने के कारण बिहार में इस वर्ष मानसून की स्थिति अब सुधरती नजर आ रही है। गर्जन सहित मध्यम बारिश और वज्रपात को लेकर 22 जिलों में अलर्ट जारी कर दिया गया है।

झारखंड के 15 से अधिक जिलों में भारी बारिश का अलर्ट

झारखंड के 15 से अधिक जिलों में आज गरज चमक के साथ भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया। मूसलाधार बारिश से कई क्षेत्र प्रभावित होंगी। इसके लिए ऑरेंज अलर्ट घोषित किया गया है। रांची सहित आसपास के इलाकों में वज्रपात की भी संभावना जाहिर की गई है जबकि संथाल परगना और पूर्वी झारखंड में भी मौसम में बदलाव देखने को मिलेगा। ठंडी हवा चलेगी रात के तापमान में 5 फीसद की गिरावट रिकॉर्ड की जाएगी। 1 सप्ताह तक झारखंड में बारिश की गतिविधियां संचालित रहेगी।

उड़ीसा पश्चिम बंगाल में भारी बारिश का रेड अलर्ट

उड़ीसा और पश्चिम बंगाल के कई जिलों में भारी बारिश की संभावना जताई गई है। मेघ गर्जन वज्रपात सहित बंगाल के 15 जिलों में भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया गया है। इसके अलावा उड़ीसा के कई क्षेत्रों में लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी गई है। उड़ीसा में आज भारी बारिश का रेड ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

मौसम प्रणाली

  • संबंधित चक्रवाती परिसंचरण के साथ एक कम दबाव का क्षेत्र (एलपीए) पश्चिम-मध्य बंगाल की खाड़ी और इससे सटे तटीय आंध्र प्रदेश पर स्थित है,
  • एक ट्रफ रेखा परिसंचरण से उत्तराखंड के आसपास तक फैली हुई है।
  • एलपीए कम चिह्नित होता जा रहा है, लेकिन चक्रवाती परिसंचरण और ट्रफ रेखा के पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बहुत धीमी गति से बढ़ने की उम्मीद है।
  • एलपीए से दक्षिणी प्रवाह हिमालयी क्षेत्र और पूर्वोत्तर भारत को प्रभावित करने की संभावना है।
  • आईएमडी के अनुसार, अंडमान, निकोबार, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, ओडिशा, तमिलनाडु, पुडुचेरी और आंध्र प्रदेश में भी हल्की से भारी बारिश की संभावना है।

तमिलनाडु कर्नाटक में भारी बारिश से

देश के दक्षिणी राज्य में एक बार फिर से बारिश का सिलसिला शुरू होगा। चक्रवाती तूफान की वजह से तमिलनाडु कर्नाटक में आज बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। मध्यम दर्जे की बारिश सहित गरज चमक की भी आशंका जताई गई है। वहीं तापमान में तीन फीसद की गिरावट रिकॉर्ड की जा सकती है।

एमपी छत्तीसगढ़ में बारिश

मध्य प्रदेश में 10 दिन के ब्रेक के बाद आखिरकार एक बार फिर से वेदर सिस्टम एक्टिव हो गया है। जिसके बाद 15 से अधिक जिलों में भारी बारिश और गरज चमक का अलर्ट जारी कर दिया गया है। दरअसल इन क्षेत्रों में बारिश का यह लो ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। वहीं छत्तीसगढ़ में भी बारिश की गतिविधियां संचालित रहेगी। 3 दिन तक मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में मौसम में बदलाव दिखेगा। हालांकि इसके बाद बारिश की गतिविधियों पर विराम लग जाएगा।

इन क्षेत्रों में भारी बारिश का अलर्ट

पश्चिम उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, ओडिशा, पूर्वी उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, तटीय आंध्र प्रदेश, यनम, तेलंगाना, तमिलनाडु, पुडुचेरी और कराईकल में भारी बारिश के साथ व्यापक से व्यापक बारिश की संभावना है। अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, गंगीय पश्चिम बंगाल, झारखंड, विदर्भ और छत्तीसगढ़ में गरज के साथ व्यापक रूप से गिरने की संभावना है।

बिहार, हिमाचल प्रदेश, मराठवाड़ा, रायलसीमा, कर्नाटक, केरल, माहे और लक्षद्वीप में गरज के साथ छींटे पड़ने की संभावना है। हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, पूर्वी राजस्थान, गुजरात क्षेत्र, कोंकण, गोवा और मध्य महाराष्ट्र में बिजली गिरने की संभावना है। अन्य क्षेत्रों में शुष्क मौसम की संभावना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *