GST काउन्सिल की 21वी बैठक में जेटली के साथ शामिल हुए अमर

IMG-20170909-WA0008हैदराबाद।शनिवार को जीएसटी कॉउन्सिल की 21वी बैठक हैदराबाद में हुई।बैठक में वित्त मंत्री अरुण जेेेटली के साथ प्रदेश के वाणिज्यिक कर मंत्री अमर अग्रवाल भी शामिल हुए।बता दे कि कारोबारियों को जीएसटी रिटर्न फाइलिंग को लेकर इस बार बड़ी राहत मिली है। सरकार ने रिटर्न फाइल करने की समय सीमा बढ़ा दी है। अब जुलाई के लिए जीएसटी रिटर्न 1 (जीएसटीआर1) की फाइलिंग की लास्ट डेट एक महीना बढ़ाकर 10 अक्टूबर कर दी है, जो पहले 10 सितंबर थी। बता दें कि इससे पहले जीएसटी रिटर्न 1 फाइल करने की अंतिम तारीख 5 सितंबर थी।जीएसटी काउंसिल की 21वीं मीटिंग के बाद जम्मू कश्मीर के वित्त मंत्री हसीब द्राबू ने कहा कि सेल्स रिटर्न या जीएसटीआर-1 की फाइलिंग की लास्ट डेट एक महीना बढ़ाकर 10 अक्टूबर कर दी गई है।

                                बैठक में सभी राज्यों के वित्त मंत्रियों ने नए कर ढांचे के बाद जनता पर पड़ने वाले प्रभावों के बारे में जानकारी दी। राज्यों की वित्त स्थिति से भी अवगत कराया। केन्द्रीय वित्त मंत्री अरूण जेटली ने राज्य के सभी प्रतिनिधियों को और वित्त मंत्रियों को बधाई दी। अरूण जेटली से प्रदेश के नगरीय निकाय मंत्री अमर अग्रवाल जेटली ने विशेष रूप से चर्चा की। प्रदेश की वित्तीय ढांचे की विस्तार से जानकारी दी।

                               इंडस्ट्री की ओर से रिटर्न फाइलिंग के लिए समयसीमा बढ़ाने की मांग की जा रही थी। देशभर में कारोबारियों को रिटर्न दाखिल करने और टैक्स का  भुगतान करने में दिक्कतें आ रही थीं। जीएसटी नेटवर्क के पोर्टल पर दिक्कतें आ रही थीं। जीएसटी नेटवर्क ने भी माना था कि ऐसी दिक्कतें आ रही हैं।

                              जीएसटी के पोर्टल पर जीएसटी सॉफ्टवेयर टूल है जिसे कारोबारी अपने कंप्यूटर पर डाउनलोड कर सकते हैं। ये सॉफ्टवेयर टूल एक्सल फॉरमेट और जावा स्क्रिप्ट में है। इस एक्सल फॉरमेट पर आप अपने बिल बना सकते हैं। बिल की जानकारी एक्सेल शीट में सेव करके इसे ही जीएसटी के पोर्टल पर रिटर्न के साथ अपलोड कर सकते हैं।सॉफ्टवेयर टूल पर कारोबारी अपनी रिटर्न ऑनलाइन मोबाइल के जरिए भी फाइल कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *