हमार छ्त्तीसगढ़

Korba Loksabha: चेहरे पर लेकर मुस्कान, महिलाएं चली कराने मतदान

Korba Loksabha।कोरबा जिले में लोकतंत्र का महापर्व 7 मई को मतदान प्रारंभ होने के साथ शुरू हो जाएगा। इस पर्व की तैयारी को लेकर आज सुबह से ही मतदान दल अपने-अपने मतदान केद्रों की ओर बसों से रवाना हुई। कोरबा जिले के चार विधानसभा में से दो विधानसभा कोरबा और रामपुर के लिए मतदान दल आईटी कॉलेज झगरहा तथा पाली-तानाखार एवं कटघोरा विधानसभा के लिए शासकीय मुकुटधर कॉलेज कटघोरा से मतदान दल बसों से रवाना हुई।

Join Our WhatsApp Group Join Now

कलेक्टर अजीत वसंत, पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ तिवारी, निगम आयुक्त श्रीमती प्रतिष्ठा ममगाई ने कोरबा विधानसभा क्षेत्र के मतदान केंद्रों के लिए रवाना हो रही महिला मतदान दल के बसों को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया।

इस दौरान उन्होंने बस पर चढ़कर महिला मतदान दलों को ऑल द बेस्ट कहकर लोकतंत्र के इस महापर्व में शामिल होने पर बधाई एवं शुभकामनाएं दी और उनका उत्साहवर्धन किया। आईटी कॉलेज से अपने दल में ईवीएम के साथ बसों में रवाना होती महिलाओं में मतदान कराने का न सिर्फ उत्साह था अपितु चेहरे पर मुस्कान के साथ लोकतंत्र के पर्व में शामिल होने और भागीदार बनने की खुशी भी थी।

 कोरबा लोकसभा अंतर्गत कोरबा विधानसभा के 249 मतदान केंद्रों सहित जिले के अन्य 30 संगवारी केद्रों में महिला मतदान दलों द्वारा मतदान कराया जाएगा।

कोरबा जिले में कलेक्टर अजीत वसंत के नेतृत्व में पहली बार महिलाओं को कोरबा विधानसभा में सम्पूर्ण मतदान केंद्र के लिए जिम्मेदारी दी गई है। निर्वाचन कार्य में जिम्मेदारी मिलने पर खुद को बहुत गौरवान्वित महसूस करते हुए महिला मतदान दल के कर्मचारियों ने खुशी जताई है।

ईवीएम के साथ मतदान केंद्र के लिए रवाना होती मतदान अधिकारी श्रीमती नेहा सिंह ने बताया कि हम महिलाएं सभी प्रकार के कार्य कर सकती हैं। निर्वाचन आयोग ने जो जिम्मेदारी दी है उसे भी पूरा करेंगे। उन्होंने कहा कि बहुत पहले कई देशों में महिलाओं को मतदान करने का अधिकार नहीं था, आज हम जैसी महिलाओं को मतदान कराने की जिम्मेदारी भी मिलने लगी है। इससे हम सभी को खुशी के साथ गर्व भी महसूस होता है।

पीठासीन अधिकारी के रूप में मतदान केंद्र के रवाना होती खुशबू खान ने बताया कि मेरी पहली बार ड्यूटी लगी है, इस कार्य को करने में किसी प्रकार का संकोच नहीं है। बहुत खुशी की बात है कि हमें यह जिम्मेदारी मिली है और इस जिम्मेदारी को पूरा करेंगे। पीठासीन अधिकारी के रूप में श्रीमती एम. धनलक्ष्मी ने बताया कि वह तीसरी बार निर्वाचन कार्य करने जा रहीं हैं।

इस कार्य से उन्हें गर्व की अनुभूति होती है। उन्होंने कहा कि आज महिलाएं सभी क्षेत्रों में काम कर सकती हैं। निर्वाचन का दायित्व जिम्मेदारी और गंभीरता से जुड़ा हुआ है। हम सभी इसे गंभीरता और जिम्मेदारी के साथ में निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशानुसार संपादित करेंगे।

मतदान अधिकारी के रूप में श्रीमती हेमलता राठौर, ममता यादव, अलखनंदा दत्ता, अभिलाषा विश्वकर्मा, श्रीमती कल्पना लहरे तथा सुरक्षा डयूटी में आई प्रतिभा राय सहित अन्य महिलाओं ने कहा कि हम सभी महिलाएं बहुत ही उत्साहित हैं कि महिला टीम इतनी बड़ी जिम्मेदारी का काम करने जा रहीं हैं, यह सब कोरबा जिले के गर्व की बात है। उन्होंने कहा कि महिलाएं किसी से कम नहीं हैं, हमें जो जिम्मेदारी मिली है उसे पूरा करके बताएंगे। सभी महिलाओं ने लोकतंत्र के इस पर्व में खुद की भागीदारी पर खुशी जताई है।

      लोकसभा निर्वाचन 2024 अंतर्गत कोरबा में मतदान 7 मई को प्रातः 7 बजे से शाम 6 बजे तक होना है। कोरबा लोकसभा के अंतर्गत कोरबा विधानसभा सीट में इस बार मतदान कराने के लिए जिन अधिकारी-कर्मचारियों की डयूटी लगाई गई है, उनमें सभी महिलाएं शामिल है। कोरबा विधानसभा के 249 बूथों पर लगभग 1150 महिला कर्मचारी होंगी। इसके साथ ही 69 माइक्रों आब्जर्वर, अनेक सेक्टर अधिकारी, सुरक्षा की जिम्मेदारी भी महिलाओं के हाथों सौंपी गई है। जिले के अन्य तीन विधानसभा में 10-10 संगवारी मतदान केंद्र भी बनाएं गए हैं। इन संगवारी मतदान केंद्रों में भी कुल 180 महिलाओं की ड्यूटी लगी है।

जिले में पहली बार पूरे एक विधानसभा में निर्वाचन पूर्ण कराने की जिम्मेदारी महिलाओं को

संसदीय क्षेत्र कोरबा में लोकसभा निर्वाचन 2024 अंतर्गत 07 मई को तीसरे चरण का मतदान होगा।  जिले के इतिहास मे पहली बार पूरे एक विधानसभा में निर्वाचन पूर्ण कराने की जिम्मेदारी महिलाओं को सौपीं गई है। कोरबा विधानसभा सीट में 249 मतदान केंद्र हैं और सभी संगवारी बूथ है। यहां पीठासीन अधिकारी सहित मतदान अधिकारी क्रमांक 01, 02, 03 एवं माइक्रो ऑब्जर्वर सभी महिलाएं ही हैं। इसके लिए 1150 महिलाओं को जिम्मेदारी सौंपी गई है।

लोकसभा निर्वाचन 2024 के तहत सामग्री वितरण के दौरान महिला मतदान अधिकारियों में गजब का उत्साह रहा। सभी पूरे उत्साह से अपने जिम्मेदारियों का निर्वहन के लिए रवाना हुए। उन्होंने यह साबित कर दिया कि महिलाएं किसी काम करने के लिए पीछे नहीं हैं उनका उत्साह देखकर सभी का मन प्रफुल्लित हुआ। महिलाओं का इस प्रकार का उत्साह समाज के लिए प्रेरणास्पद है। उनकी सक्रिय भागीदारी समाज में समानता और विकास की दिशा में महत्वपूर्ण होती है। ऐसी गतिविधियों से महिलाओं के सामाजिक और राजनीतिक रूप से सशक्तिकरण में मदद मिलती है।

युवा पीठासीन अधिकारी की जिम्मेदारी निभाने जा रही सुश्री शालिनी देवांगन ने बताया की वह जल संसाधन विभाग में उपअभियंता के पद पर कार्यरत है। लोकसभा निर्वाचन में उन्हें पीठासीन अधिकारी के रूप में जेलगांव के युवा मतदान केंद्र सरस्वती शिशु मंदिर विद्यालय में चुनाव पूर्ण कराने की जिम्मेदारी मिली है।

शालिनी कहती है यह महिलाओं का दौर है। महिलाएं किसी से कम नही है, महिलाएं किसी भी जिम्मेदारी का निर्वहन करने में पूरी तरह सक्षम है और आगे भी बड़ी जिम्मेदारियों का निर्वहन महिलाएं करेंगी।

उन्होंने बताया कि निर्वाचन कराने जैसी बड़ी जिम्मेदारी मिलने पर वह काफी उत्साहित है। उन्हें बहुत खुशी है कि लोकतंत्र के इस महापर्व में अपनी सहभागिता निभाने का अवसर मिला है। जिला निर्वाचन कार्यालय ने उन पर भरोसा दिखाते हुए चुनाव की जिम्मेदारी दी है। जिसका निर्वहन वे पूरी निष्ठा और ईमानदारी के साथ करेंगी। उनके साथ युवा मतदान टीम है। जिनके सहयोग से वह ज्यादा लोगों को मतदान के लिए प्रेरित कर अपने पोलिंग बूथ में शत प्रतिशत मतदान पूर्ण कराएंगी। शालिनी का उत्साह और आत्मविश्वास सभी महिलाओं के लिए प्रेरणास्रोत है।

युवा मतदान केंद्र में मतदान अधिकारी क्रमांक 01 के रूप में नियुक्त सुश्री प्रभावती पटेल ने बताया कि वह ग्रामीण यांत्रिकी सेवा संभाग कोरबा में पदस्थ है। लोकसभा चुनाव 2024 में उनकी ड्यूटी जेलगांव क्षेत्र के सरस्वती शिशु मंदिर स्कूल के बूथ क्रमांक 21 में लगी है। उन्होंने बताया कि आयोग का यह दृष्टिकोण महिलाओं के सशक्तिकरण की दिशा में महत्वपूर्ण पहल है। उनकी पूरी टीम में उमंग व्याप्त है। जिनके उत्साह और सामर्थ्य से निर्वाचन प्रक्रिया सुगमता से और सरलता पूर्वक संपादित होगा। उन्होंने कहा कि चुनाव कराने की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी मिलना उनके लिए बड़े गर्व की बात है। जिसका निर्वहन में हम अपनी शत प्रतिशत भूमिका निभाएंगे एवं पूरी गम्भीरता व जिम्मेदारी से कर्तव्यों का पालन करेंगे।

जमनीपाली के आत्मानंद विद्यालय में माइक्रो ऑब्जर्वर के दायित्व का निर्वहन कर रही केंद्रीय विद्यालय क्रमांक 02 की पीजीटी टीचर सुश्री दीक्षा गुप्ता ने कहा कि निर्वाचन कार्य में महत्वपूर्ण जिम्मेदारी मिलने पर उन्हें बहुत प्रसन्नता हो रही है। महिलाओं की सशक्तीकरण में यह बहुत अच्छा प्रयास है। उन्होंने कहा कि वह बहुत ज्यादा उत्साहित है।

निर्वाचन में कार्य करने का यह उनका पहला अनुभव है। जिससे उन्हें बहुत कुछ नया सीखने को मिला है। उन्होंने बताया कि प्रशिक्षण में उन्होंने माइक्रो ऑब्जर्वर के कार्यो को गहनता से समझा है और पूरे आत्मविश्वास से उस दायित्व को निभाने को तत्तपर है। दीक्षा ने मतदान की उपयोगिता समझाते हुए कहा कि आपका वोट बहुमूल्य है। लोकतंत्र की मजबूती में सभी की सहभागिता आवश्यक है। आप सभी वोट कर अपने लिए योग्य उम्मीदवार का चयन कर सकते है। उन्होंने आमजनों से मतदान अपील करते हुए कहा की इस हेतु अपने घरों से निकलकर अनिवार्य रूप से मतदान करें।

इसी प्रकार अन्य महिला मतदान कर्मियों में भी भारी उत्साह एवं जोश नजर आया, सभी उत्साह पूर्वक अपने कर्तव्यों का निर्वहन के लिए खुशी खुशी रवाना हुए।

                   

Shri Mi

पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर
Back to top button
close