Raksha Bandhan:कुछ खास होगा रक्षाबंधन,इस शुभ मुहूर्त में बहनें बांधें राखी

बिलासपुर।रक्षा बंधन सावन मास की पूर्णिमा के दिन मनाया जाता है. ज्योतिष के मुताबिक इस बार का रक्षाबंधन राखी बांधने के लिए शुभ है. शुभ मुहूर्त का समय 11 घंटे 26 मिनट का होगा. इस शुभ मुहूर्त में बहन अपने भाई को राखी बांध सकती है. सावन महीने की पूर्णिमा तिथि 25 अगस्त, शाम 3 बजकर 16 मिनट से शुरू होगा. इस मुहूर्त में किसी प्रकार की कोई अड़चने नहीं होंगी. पिछले साल के शुभ समय के अनुसार इस साल राखी बांधने के लिए काफी समय होगा. सावन महीने की पूर्णिमा तिथि 25 अगस्त, शनिवार की शाम 3 बजकर 16 मिनट से शुरू हो जाएगी, जो 26 अगस्त की शाम 5 बजकर 25 मिनट पर खत्म होगी।

राखी बांधने का शुभ मुहूर्त
राखी बांधने का शुभ मुहूर्त अगस्त 26 की सुबह से सुबह 5:59 मिनट से शाम 17:12 मिनट तक होगा, राखी की शुभ अवधि:11 घंटे 26 मिनट तक होगा. रक्षाबंधन में दोपहर का शुभ मुहूर्त:13:39 से 16:12 तक होगा. और दोपहर की अवधि: 02 घंटे 33 मिनट तक होगी।

गौरतलब है कि राखी का पर्व भाई बहन के लिए बहुत खास होता है जिस में बहन अपने भाई की कलाई पर राखी बांधती है. और हर भाई अपनी बहन की रक्षा करने की कसम खाता है. बहन अपने भाई की लंबी आयू की कामना करती है. इस पवित्र अवसर पर बहन अपने भाई के माथे पर तिलक लगाती है. माना जाता है राखी के धांगे का संबंध अटूट होता है, जो भाई की रक्षा करता है।

रक्षा बंधन में ऐसे तैयार करें पूजा की थाली
रक्षा बंधन के दिन बहन सुबह उठकर सबसे पहले स्नान कर और नए वस्त्र पहन कर राखी की थाली तैयार करें. थाली में राखी, कुमकुम, हल्दी, अक्षत, और मिठाई रखें. जिसके बाद बहन अपने भाई का तिलक करने के बाद उस की आरती करती है. बहन भाई के दाऐं हाथ में राखी बांधती है. जब तक बहन अपने भाई को राखी नहीं बांधती है तब तक दोनों लोग उपवास रखते है. फिर बहन भाई को मिठाई खिलाती है. फिर भाई बहन के चरण छूता है.

इस समय में ना बांधे भाई को राखी
रक्षा बंधन में ये माना जात है कि भद्र राल में राखी नहीं बांधी जाती है. इसे अच्छा नहीं माना जाता है. इस साल भद्र काल सूर्योदय से पहले ही खत्म हो जाएगा. इस त्यौहार से भाई और बहन में हमेशा प्यार बना रहता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *